Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

हुकूमत से बेदखल होकर दहशतगर्दी फैला रहे हैं सद्दामी : शेख अली नजफ़ी

 Sabahat Vijeta |  2016-04-04 12:59:06.0

sheikh ali najafiतहलका न्यूज़ ब्यूरो


लखनऊ, 4 अप्रैल. इराक़ के शिया धर्मगुरु मौलाना शेख अली नजफ़ी ने बताया कि सद्दाम हुसैन के दौर के इराक़ में और आज के इराक़ में बहुत फर्क है. सद्दाम हुसैन के दौर में अपनी आवाज़ उठाना भी मुमकिन नहीं था जबकि आज के इराक़ में लोग अपनी हुकूमत चुन रहे हैं. इस दौर के लोग अपनी ज़िन्दगी अपनी सहूलियत से बसर कर सकते हैं.


मौलाना शेख अली नजफ़ी से जब तहलका न्यूज़ ने यह सवाल किया कि सद्दाम के दौर आईएसआईएस जैसी दहशतगर्दी भी तो नहीं थी जिसने अब लोगों का सुकून छीन लिया है. इस पर मौलाना नजफ़ी ने कहा कि यह सही है कि सद्दाम हुसैन के दौर में आईएसआईएस जैसी मुश्किलें नहीं थीं लेकिन हकीकत यह है कि सद्दाम के बाद सद्दाम के जो फ़ालोवर थे वही दहशतगर्दी में लग गए. उनका कहना है कि जो आतंकी संगठन इराक़ और आसपास के मुल्कों का जीना हराम किये हैं वह सद्दामी लोग ही हैं. उन्होंने कहा कि यह लोग पहले अपनी हुकूमत के नाम पर लोगों का खून बहाते थे और अब हुकूमत के लिए बहाते हैं. मौलाना ने कहा कि आईएसआईएस की दहशतगर्दी का दौर तेज़ी से ख़त्म हो रहा है. पिछले कुछ महीनों में उनकी ताक़त तेज़ी से घटी है. आने वाले दिनों में यह पूरी तरह से खत्म हो जायेगा.


आल इण्डिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के अध्यक्ष मौलाना मिर्ज़ा मोहम्मद अतहर के चालीसवें में शामिल होने आये मौलाना शेख अली नजफ़ी ने बताया कि अपने इस हिन्दुस्तान दौरे में दिल्ली में बड़े लीडरों से भी मुलाक़ात करेंगे और दूसरे मज़हब के नेताओं से भी मुलाक़ात करेंगे.


उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान ही नहीं पूरी दुनिया के सामने इस वक्त आतंकवाद का मुद्दा ही सबसे बड़ा मुद्दा है और इसे खत्म किये बगैर सुकून हासिल होने वाला नहीं है. मौलाना ने कहा कि इसके खिलाफ हर शख्स को खड़ा होना होगा. इसके खिलाफ जब सब मिलकर जेहाद छेड़ेंगे तो हालात तेज़ी से बदलेंगे. मौलाना नजफ़ी ने कहा कि एक तरफ तो हमारी खुद की फ़िक्र आतंकवाद के खिलाफ होनी चाहिए और इसके साथ ही हमें अपने बच्चों की फ़िक्र भी दहशतगर्दी के खिलाफ बनानी होगी. मौलाना शेख अली नजफ़ी ने कहा कि दहशतगर्दी के साथ-साथ मज़हब के नाम पर बंटवारा करने वालों के खिलाफ भी हमें आवाज़ उठानी होगी.


उन्होंने कहा कि इराक़ की फ़ौज को नए तरीके से फिर से खड़ा करना होगा. दहशतगर्दी के खिलाफ उसकी जंग में बराबरी से सहयोग करना होगा. उन्होंने कहा कि इराक बहुत मुश्किल में फंसा है लेकिन उम्मीद है कि बहुत जल्दी वह इस मुश्किल से बाहर निकल जाएगा. उन्होंने कहा कि आईएसआईएस ने हमारे जिन इलाकों पर क़ब्ज़ा जमा रखा है उसे बहुत जल्द हम खाली करा लेंगे.


मौलाना नजफ़ी के सामने जबरन भारत माता की जय का नारा लगवाने का मुद्दा भी उठा. इस पर उन्होंने कहा कि इस मुद्दे के बारे में उन्हें जानकारी नहीं है लेकिन वतन से मोहब्बत हमारे ईमान की निशानी होती है इसलिए हर हिन्दुस्तानी के दिल में अपने मुल्क से मोहब्बत का होना बहुत ज़रूरी है.

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top