Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

याद-ए-बिस्मिल्लाह में बजेगी शहनाई

 Sabahat Vijeta |  2016-09-24 13:58:53.0

soma-ghosh

तहलका न्यूज़ ब्यूरो


लखनऊ. भारत रत्न उस्ताद बिस्मिल्लाह खां की जन्म शताब्दी के मौके पर 26 सितम्बर को उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी के संत गाडगे जी महाराज प्रेक्षाग्रह में याद-ए-बिस्मिल्लाह का आयोजन किया जाएगा. याद-ए-बिस्मिल्लाह में वाराणसी के मशहूर सात शहनाई वादक अपना शहनाई वादन पेश करेंगे. इन शहनाई वादकों के साथ उस्ताद बिस्मिल्लाह खां के तबला वादक पुत्र नाजिम हुसैन संगत करेंगे.


उस्ताद बिस्मिल्लाह खां की दत्तक पुत्री पद्मश्री सोमा घोष ने बताया कि भारत रत्न उस्ताद बिस्मिल्लाह खां की जन्म शताब्दी के मौके पर देश भर में आयोजित किये जा रहे कार्यक्रमों की श्रंखला में लखनऊ के संगीत नाटक अकादमी में 26 सितम्बर को शाम 6.30 बजे से और राजभवन में 28 सितम्बर को शाम 6.30 बजे से शहनाई वादन और पद्मश्री सोमा घोष का ठुमरी और ग़ज़ल गायन का कार्यक्रम होगा.


सोमा घोष ने बताया कि याद-ए-बिस्मिल्लाह में मुख्य अतिथि के तौर पर मुख्यमंत्री के सलाहकार आलोक रंजन और विशिष्ट अतिथि के तौर पर उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी के सभापति अच्छेलाल सोनी मौजूद रहेंगे.


सोमा घोष ने बताया कि संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार के सहयोग से मुम्बई की संस्था मधु मूर्छना और उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी की अवध संध्या श्रंखला के तहत इसका आयोजन किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि जन्म शताब्दी पर उस्ताद बिस्मिल्लाह खां की याद में प्रख्यात शहनाई वादकों की टोली अपना कार्यक्रम पेश करेगी. इस टोली में सितार वादक नीरज मिश्र, बिस्मिल्लाह खां के तबला वादक पुत्र नाजिम हुसैन, उनके दामाद अली अब्बास और उस्ताद बिस्मिल्लाह खां के साथ जुगलबंदी कर चुकीं गायिका पद्मश्री डॉ. सोमा घोष ठुमरी व ग़ज़ल पेश करेंगी. इस मौके पर शुभांकर घोष द्वारा तैयार वृत्त चित्र का प्रदर्शन भी किया जाएगा. इसमें उस्ताद बिस्मिल्लाह खां की ज़िन्दगी पर रौशनी डाली गई है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top