Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

मायावती अम्बेडकर जंयती लखनऊ के बजाय महू में क्यों नहीं मना रही हैं: बीेजेपी

 Tahlka News |  2016-04-14 09:04:00.0

download (1)


तहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ, 14 अप्रैल. भारत रत्न बाबा साहब डॉ भीम राव अंबेडकर की आज 125 वीं जयंती मनाई जा रही है। बसपा सुप्रीमो ने लखनऊ में रैली कर पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। इसका जवाब देते हुए भाजपा प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा अम्बेडकर की जंयती पर चुनावी भाषण दे रही बसपा प्रमुख जाति और वर्ग का कार्ड खेलने में जुटी है। रोहित बेमुला के पहले 8-9 अन्य दलित छात्रों की आत्महत्या के प्रकरण का तो वे जिक्र कर रही थी किन्तु वह यह बताना भूल गयी कि गए दस वर्षो तक केन्द्र की यूपीए सरकार को उनका समर्थन था।


भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि अम्बेडकर जंयती मनाने पर मायावती भाजपा पर तंज तो कस रही थी किन्तु जब 125वीं जंयती अभी पड़ी तो पहले कैसे मना ली जाती। मोदी सरकार पर हमलावर होने का कोई मौका न छोड़ने में जुटी मायावती ने बाबू जगजीवन राम जंयती मनाने पर कहा कि सासाराम में क्यों नहीं मनाया। किन्तु अब सवाल तो उन पर भी है कि अम्बेडकर जंयती लखनऊ के बजाय महू में क्यों नहीं मना रही हैं।


उन्होंने कहा बीजेपी अम्बेडकर के नाम पर छोटे-छोटे स्मारक बना रही है लखनऊ का अम्बेडकर स्मारक बीजेपी पर अकेले भारी हैं। हमारे लिए स्मारक कंकड़-पत्थर की इमारत नहीं श्रद्धा और प्रेरणा का स्थल है। फिर जन्मभूमि, दीक्षा भूमि, शिक्षा भूमि, निर्वाण स्थल, और चेतन्य भूमि बदली नहीं जा सकती है जिन्हे वे छोटा कहने में जुटी है।


एक बार फिर एक दूसरे के विरूध आक्रमक भाषा बोल राजनीति करने की कोशिश की जा रही है। 2007 में जेल भेजने का वादा करने वाली बसपा ने 5 वर्षो की सत्ता के दौरान मौन साधा। सपा ने बसपा के भ्रष्टाचार पर समयबद्ध जांच कराने की बात कही, 4 वर्षो पूर्ण होने के बाद आयोग तक तो बनाया नही। भष्टाचार पर सपा-बसपा की युती है। अब एक बार फिर जांच और कार्यवाही की की बात।

  Similar Posts

Share it
Top