Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी विधानसभा चुनाव: मुस्लिम वोटों के लिए BSP ने ढूंढ़ा एक नया युवा चेहरा

 Abhishek Tripathi |  2016-10-12 06:09:58.0

afzal_siddiquiतहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ. बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने यूपी चुनाव को लेकर एक नया दांव खेला है। बीते रविवार को अपनी रैली में बसपा सुप्रीमो मायावती ने मुस्लिम वोटों का जिक्र करते हुए सपा पर निशाना साधा था। वहीं, इसके बाद पश्चिमी यूपी में युवा मुस्लिम वोटों को बटोरने की जिम्मेदारी बसपा के मुस्लिम नेता नसीमुदृदीन सिद्दकी को दे दी है। इसके साथ ही यूपी में मुस्लिम वोटों के गढ़ पश्चिमी यूपी में युवा मुस्लिमों के बीच बसपा का संदेश पहुंचाने के लिए नसीमुद्दीन के बेटे अफजल सिद्दकी (27) को भी चुना गया है। अफजल मेरठ, सहारनपुर, बरेली, मुरादाबाद, अलीगढ़ और आगरा के डिवीजन का इंचार्ज भी बनाया गया है।


मायावती का टारगेट है मुस्लिम वोट
बीते रविवार को मायावती ने लखनऊ में एक रैली की। इस रैली में मायावती ने मंच से साफ तौर पर कहा कि यूपी के मुस्लिम भाई-बहन सपा की असलियत देख चुके हैं। ऐसे में मेरी गुजारिश है कि वो सपा का साथ न दें। इसके साथ ही मायावती ने पश्चिमी यूपी में मुस्लिम चेहरों को भी टारगेट करना शुरू कर दिया है।


मुस्लिमों तक पहुंचाएंगे हर बात-हर काम
यूपी चुनाव को लेकर मायावती ने अपने नेताओं को निर्देशित किया है कि वे बूथ लेवल पर जाकर काम करें। स्थानीय नेताओं और लोगों से मिलें। खासकर पश्चिमी यूपी में जितने भी युवा मुस्लिम चेहरे हैं, बसपा उन्हें लुभाने का प्रयास करेगी। इस वजह को ही ध्यान में रखकर नसीमुद्दीन के युवा बेटे को ये खास जिम्मेदारी सौंपी गई है।


सपा ने सिर्फ दंगे कराए
मायावती ने मुस्लिम वोटों को रिझाने के लिए अपने भाषण में मुस्लिमों को जिक्र करना शुरू कर दिया है। बीते रविवार को हुई रैली में मायावती ने कहा था कि सपा ने अपने कार्यकाल में सिर्फ दंगे कराए हैं। सपा मुस्लिमों के लिए दंगे कराने से ज्यादा कुछ और नहीं कर सकती। मायावती ने यूपी के मुस्लिमों से गुजारिश भी की है कि वे सपा का साथ न दें।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top