Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

आधी रात महिला के घर में घुस कर दरोगा ने की छेड़खानी

 Tahlka News |  2016-03-31 04:10:55.0

201603300450469889_UP-Police-si-in-trouble-due-to-its-colorful-tempered_SECVPF


तहलका न्यूज ब्यूरो
इलाहाबाद, 31 मार्च. इलाहाबाद में आधी रात को घर में घुसकर महिला से छेड़खानी करना यूपी पुलिस के रंगीन मिजाज दरोगा के लिए मुसीबत का सबब बन गया है। पीड़ित महिला ने पहले तो दरोगा को समझाने की कोशिश की, लेकिन जब वह मनमानी पर उतारू हो गए तो उसने पति की मदद से घर में ताला लगाकर दरोगा को बंधक बना लिया और पुलिस बुलाकर उसे सौंप दिया। इतना ही नहीं महिला ने इस दौरान अपने बेटे से रंगीन मिजाज दरोगा की पूरी रिकार्डिंग भी करा ली। हालांकि मौके से पकडे जाने के बावजूद पुलिस ने आरोपी दरोगा के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। अफसरान इस मामले में अब जांच के बाद ही कार्रवाई करने की बात कर रहे हैं।





इलाहाबाद के करेली पुलिस स्टेशन के चौकी इंचार्ज सब इंस्पेक्टर मोहन सिंह पर आरोप है कि एक सामाजिक संगठन से जुड़ी महिला किसी मामले में पैरवी के लिए थाने गई तो दरोगा ने उसके साथ छेड़खानी की। महिला इसे नजरअंदाज कर घर लौट आई तो दरोगा जी ने फोन पर उससे अश्लील बातें करना शुरू कर दिए। उसे कई आपत्तिजनक मैसेज भेजे और घर आने की जिद करने लगा। महिला ने मना किया लेकिन आधी रात को वह सादे कपड़ों में उसके घर आ धमका।


आरोपों के मुताबिक, दरोगा ने घर में घुसते ही महिला से अश्लील हरकतें शुरू कर दी। एतराज के बावजूद दरोगा जब अपनी करतूत से बाज नहीं आया तो महिला ने अपने पति को बुलाकर घर में ताला लगवा कर दरोगा को कैद कर लिया। महिला ने इस बीच अफसरों को फोन कर पुलिस बुला ली और इस दौरान दरोगा की हरेक हरकत की मोबाइल से रिकॉर्डिंग करा ली।

हालांकि महिला के घर से पकड़े जाने के बावजूद पुलिस ने अभी तक आरोपी दरोगा के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। दो दिन पहले हुई इस घटना में अब तक न तो पीड़ित महिला की एफआईआर दर्ज की गई है और न ही आरोपी दरोगा के खिलाफ कोई एक्शन हुआ है।

इस बारे में आरोपी दरोगा ने अफसरों को बताया है कि महिला ने उसे बहाने से घर बुलाकर फर्जी तौर पर फंसाया है। अफसरों का कहना है कि इस मामले की जांच इलाहाबाद के एसएसपी को दी गई है। उनकी जांच रिपोर्ट के आधार पर ही आरोपी दरोगा के खिलाफ कोई कार्रवाई की जाएगी। अफसरों ने यह भरोसा जरूर दिलाया है कि अगर दरोगा गलत पाया जाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई जरूर की जाएगी।

हालांकि, इलाहाबाद की इस घटना ने खाकी को एक बार फिर दागदार किया है। इस मामले में पीड़ित महिला की हिम्मत की भी दाद देनी होगी, जिसने दरोगा से डरकर अपना शोषण कराने के बजाय हिम्मत और दिमाग से काम किया और रंगीन मिजाज दरोगा को करारा सबक सिखाने का काम किया है। बहरहाल, इलाहाबाद की इस घटना में सच से पर्दा उठना अभी बाकी है।

















































































  Similar Posts

Share it
Top