Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बोले पीयूष गोयल, अखिलेश सरकार ने बिजली कनेक्शन देने में किया भेदभाव

 Avinash |  2017-02-09 18:07:28.0

बोले पीयूष गोयल, अखिलेश सरकार ने बिजली कनेक्शन देने में किया भेदभाव

तहलका न्यूज़ ब्यूरो
लखनऊ. केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने गुरुवार को लखनऊ में भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि नीटू-दीपू कौन है? जिनके हाथों में एलईडी बल्बों में घोटाले की छूट दी गयी. उन्होने कहा कि सपा-कांग्रेस 310 रूपये में एलईडी बल्ब खरीदती थीं. भाजपा सरकार ने 38 रूपये में एलईडी बल्ब खरीदे.

उन्होंने कहा कि कोयला और बिजली के क्षेत्र में 68 सालों तक कमी बनी रही. यूपीए सरकार में एक लाख 86 हजार करोड़ का कोयला घोटाला हुआ. यूपी में भी कोयले की कमी रहती थी. हमने कोयले का उत्पादन बढ़ाया. आज देश में ऐसा एक भी थर्मल पावर प्लांट नहीं है, जहां कोयले की कमी हो. केन्द्र सरकार ने 52 हजार करोड़ टन कोयले की खदान यूपी को दी.


उन्होंने अखिलेश सरकार को बिजली के मुद्दे पर जमकर घेरा. उन्होंने मुरादाबाद का जिक्र करते हुए आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश में धर्म के आधार पर बिजली कनेक्शन बांटे जा रहे हैं. साथ ही कहा कि जब चौबीस घंटे बिजली देने की व्यवस्था केंद्र ने कर दी है, तो अखिलेश ने अब तक इसका लाभ क्यों नहीं उठाया?

पीयूष गोयल ने कहा कि यूपी को जितनी भी बिजली चाहिए उतनी बिजली 2.85 रूपये प्रति यूनिट के हिसाब से वह खरीद सकता है. 24 घंटे बिजली उपलब्ध है लेकिन अखिलेश सरकार आपूर्ति पूरी होने की बात कह कर बिजली नहीं खरीद रही है.

उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री ने साढ़े चार साल बाद ही सही 24 घंटे बिजली देने की घोषणा कर दी लेकिन कहीं भी 24 घंटे बिजली नहीं आती है.

केन्द्र सरकार ने चौबीस घंटे, सातों दिन बिजली देने के लिए हर राज्य से करार किया. देश के 28 राज्यों ने इस करार पर हस्ताक्षर किए, सिर्फ यूपी ही ऐसा राज्य है, जिसने हस्ताक्षर नहीं किये.

पीयूष गोयल ने कहा कि यूपी में आज भी एक करोड़ 60 लाख घरों में बिजली के कनेक्शन नहीं हैं, जबकि यूपी में 3 करोड़ घर हैं. केन्द्र सरकार ने गरीबों को मुफ्त बिजली कनेक्शन देने के लिए अखिलेश सरकार को पैसा दिया. लेकिन तब भी गरीबों को बिजली कनेक्शन नहीं मिल सका.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top