Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

भाजपा घोषणापत्र और प्रचार सामग्री पर प्रधानमंत्री की तस्वीर का इस्तेमाल नहीं कर सकती

 shabahat |  2017-01-30 16:46:17.0

भाजपा घोषणापत्र और प्रचार सामग्री पर प्रधानमंत्री की तस्वीर का इस्तेमाल नहीं कर सकती

लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी द्वारा भारत के प्रधानमंत्री की फोटो के इस्तेमाल पर लोकतंत्र मुक्ति मोर्चा ने चुनाव आयोग में लिखित शिकायत दर्ज कराई है. मोर्चा ने अपनी शिकायत में कहा है कि राष्ट्रीय प्रतीक और राष्ट्रीय ध्वज का दुरूपयोग नहीं किया जा सकता.

उल्लेखनीय है कि मोर्चा के राष्ट्रीय संयोजक प्रताप चन्द्र बनाम भारत सरकार मुक़दमे में जनवरी 2014 में इलाहाबाद हाई कोर्ट, लखनऊ बेंच ने सभी कंसर्न एथोरिटी को The Emblem & Name Act, 1950 का अनुपालन सुनिश्चित कराने को कहा है

भारत सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल राजनीतिक दलों को आरटीआई में लाने के मुकदमे में हलफनामा दायर कर बताया था कि राजनीतिक दल सार्वजनिक प्राधिकार (Public Authority) हैं, और The Emblem & Name Act, 1950 के 9-A के Pictorial Representation में शामिल कई लोगों के साथ ही भारत के प्रधानमंत्री भी शामिल हैं जिनके फोटो का इस्तेमाल सिवाय सरकारी व कैलेंडर के एलाऊ नहीं है, लेकिन राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के लिए अपनी पार्टी के चुनाव-चिन्ह कमल को प्रचारित करने हेतु उसके साथ प्रधानमंत्री की फोटो लगाकर अपनी पार्टी का मेनिफेस्टो जारी किया और समाचार पत्र में विज्ञापन के साथ तमाम प्रचार के साधन पर भी पार्टी प्रधानमंत्री के फोटो का इस्तेमाल कर रही है जो न सिर्फ The Emblem & Name Act, 1950 का उलंघन है बल्कि हाईकोर्ट के आदेश का उल्लंघन भी है.

लोकतंत्र मुक्ति मोर्चा ने चुनाव आयोग से कहा है कि भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह द्वारा किये जा रहे चुनाव प्रचार में मेनिफेस्टो सहित तमाम प्रचार माध्यमों से प्रधानमंत्री की फोटो का इस्तेमाल करने हेतु विधिक कार्यवाही सुनिश्चित करने की कृपा करें और आगे इस्तेमाल पर रोक लगाना सुनिश्चित नहीं किया गया तो हाईकोर्ट के आदेश का उल्लंघन होगा. जिसके लिए मोर्चा हाईकोर्ट में कंटेम्पट करने को विवश होगा.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top