Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

राज्यपाल ने मनोनीत एमएलसी की लिस्ट सपा सरकार को वापस लौटाई

 Tahlka News |  2016-03-28 10:15:01.0

download (3)

तहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ, 28 मार्च. उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक और अखिलेश सरकार एक बार फिर आमने-सामने आ गये हैं। सोमवार को राज्यपाल राम नाईक ने मनोनीत एमएलसी की लिस्ट सरकार को वापस लौटा दी है। उन्होंने कहा कि एमएलसी लिस्ट में एक भी नाम उपयुक्त नहीं है।


साथ ही राज्यपाल ने अपने पत्र में यह भी उल्लेख किया है कि उनके और मुख्यमंत्री के बीच सम्पन्न कई बैठकों में चर्चा हुई थी और मुख्यमंत्री ने उन्हें आश्वस्त किया था कि वह नये नामों का प्रस्ताव भेजेंगे, किन्तु अभी नये नाम की सूची राजभवन को प्राप्त नहीं हुई है।

बता दें कि सपा सरकार द्वारा एमएलसी लिस्ट में डाॅ0 कमलेश कुमार पाठक, संजय सेठ, रणविजय सिंह ,अब्दुल सरफराज खाॅं , डाॅ0 राजपाल कश्यप का नाम दिया है। राज्यपाल ने इन सभी का नाम वापस करते हुए कहा कि उपरोक्त कई व्यक्तियों के विरुद्ध अपराधिक मामले थे और  वे संविधान के अनुच्छेद 171(5) के अन्तर्गत उल्लिखित कुल पांच क्षेत्रों साहित्य, विज्ञान, कला, सहकारी आन्दोलन तथा समाज सेवा में से किसी भी क्षेत्र में विशेष ज्ञान अथवा व्यावहारिक अनुभव नहीं रखते हैं जिस कारण उन्हें विधान परिषद का सदस्य नामित नहीं किया जा सकता है।


उल्लेखनीय है कि माह मई, 2015 में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा विधान परिषद का सदस्य नामित किये जाने के लिए कुल 9 नामों की संस्तुतियाॅं राज्यपाल से की गयी थीं जिनमें से चार नामों श्रीराम सिंह यादव, लीलावती कुशवाहा, रामवृ़क्ष सिंह यादव, जितेन्द्र यादव पर राज्यपाल द्वारा अनुमोदन प्रदान किया जा चुका है।
















  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top