Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

उप्र का चुनाव तय करेगा 2019 के आम चुनाव की दिशा : मौर्य

 Sabahat Vijeta |  2016-08-06 14:57:30.0

LUCKNOW APR 12 (UNI)- newly appointed Uttar Pradesh BJP President Keshav Prasad Maurya, addressing his first press conference at party office in Lucknow on Tuesday. UNI PHOTO-46u

झांसी| उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने शनिवार को कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में जो प्रदर्शन पार्टी ने उप्र में किया था, वही कारनामा अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव में भी दोहराएगी। केशव ने यह भी स्पष्ट किया कि 2017 का चुनाव 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव की दिशा तय करेगा। मौर्य ने शनिवार को झांसी में प्रदेश कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं। उन्होंने इस दौरान कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा कि कार्यकर्ता यहां से सूबे की अराजक सरकार को उखाड़ फेंकने का संकल्प लेकर जाएं।


कार्य समिति की दो दिवसीय बैठक में अध्यक्षीय उद्बोधन करते हुए केशव ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार 2 वर्ष के भीतर 9 हजार गांवों में बिजली पहुंचाने का काम किया है। केंद्र सरकार की योजनाओं का बखान करते हुए मौर्य ने कहा कि केंद्र की योजनाओं का लाभ उप्र को नहीं मिल रहा है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अभी तक उप्र में लागू नहीं हुई है। राज्य सरकार की तरफ से अभी तक इसके लिए किसी एजेंसी की तैनाती नहीं की गई है।


केशव ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि बेरोजगारी भत्ता वितरण व लैपटॉप वितरण के नाम पर घोटाला हुआ है। अखिलेश यादव इतिहास के सबसे असफल मुख्यमंत्री बन चुके हैं। उन्होंने कहा कि उप्र में हो रही भर्तियों में जमकर भ्रष्टाचार हो रहा है। भ्रष्टाचार की हद ही है कि उप्र लोक सेवा आयोग की भर्तियों पर भी सवालिया निशान लगने लगे हैं। न्यायालय के आदेश के बाद उप्र लोकसेवा आयोग का अध्यक्ष बदला गया।


मौर्य ने सपा और बसपा को सांपनाथ व नागनाथ करार देते हुए कहा कि ये दोनों ही दल एक दूसरे पर दोषारोपण करते हैं, लेकिन जब सत्ता मिलती है तो वे एक दूसरे के खिलाफ कार्रवाई नहीं करते। इन दोनों दलों ने मिलकर उप्र का बहुत नुकसान किया है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि विधानसभा चुनाव के बाद यदि भाजपा की सरकार बनी तो वह अखिलेश और मायावती दोनों के काले कारनामों की जांच कराएंगे।


भाजपा से निष्कासित नेता दयाशंकर का जिक्र करते हुए केशव ने कहा कि अभद्र टिप्पणी करने वाले दयाशंकर सिंह को पार्टी ने सभी पदों के साथ ही पार्टी से भी बाहर कर दिया है। यह चैप्टर यहीं बंद हो गया है। लेकिन पार्टी पूरी तरह से दयाशंकर की बेटी और पत्नी के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि यदि भाजपा के किसी भी कार्यकर्ता का उत्पीड़न या अपमान किया गया तो पार्टी उसके साथ हमेशा खड़ी नजर आएगी।


समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह पर हमला बोलेते हुए कहा कि मुलायम सिंह बार-बार अपने भाषणों में यह कहते हैं कि पार्टी के मंत्री गलत काम कर रहे हैं, लेकिन पुत्रमोह में अखिलेश के खिलाफ कभी कुछ नहीं बोलते।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top