Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

कभी शीला दीक्षित ने यूपी के लोगों को बोझ बताया, तो कभी नकार दी थी छठ की छुट्टी

 Anurag Tiwari |  2016-07-14 11:54:17.0

शीला दीक्षित, Shiela Dikshit, Delh, Uttar pradesh Congress, cm candidate, तहलका न्यूज ब्यूरो

लखनऊ. आखिरकार यूपी कांग्रेस को सीएम कैंडिडेट के लिए एक ब्राह्मण चेहरा मिल ही गया शीला दीक्षित के रूप में. लेकिन विडंबना यह है कि शीला दीक्षित को उसी प्रदेश में कांग्रेस के लिए वोट माँगना होगा जहाँ के लोगों को उन्होंने कभी दिल्ली के लिए बोझ बताया था. यही नहीं दिल्ली में रहनेवाले पूर्वी यूपी और बिहार के लोगों के लिए छुट्टी देने से भी मना कर दिया था.

यूपी और बिहार के लोगों के चलते क्राइम बढ़ता है



साल 2012 में पूरे विश्व भर में चर्चित निर्भय कांड के बाद तब दिल्ली की सीएम रहीं शीला दीक्षित ने दिल्ली में बढ़ रहे क्राइम ग्राफ के लिए सीधे-सीधे यूपी, बिहार और अन्य राज्यों से आने वालों को जिम्मेदार बता दिया था. शीला दीक्षित का मानना था कि यूपी-बिहार के लोगों के दिल्ली में आकर बसने से दिल्ली के रिसोर्सेज पर बोझ बढ़ता है.शीला ने उस वक़्त कहा था कि दिल्ली में अप्रत्याशित चुनौतियां हैं. उन्होंने देश भर से लोगों के अनियंत्रित आगमन को चिन्ता की बड़ी वजह बताया था. उन्होंने कहा कि ऊंचा वेतन, बेहतर शैक्षिक एवं स्वास्थ्य सुविधाएं, रोजगार के अधिक अवसर ऐसे कुछ कारण हैं जो इतनी बड़ी संख्या में लोगों के दिल्ली में आने के लिए जिम्मेदार हैं.

छठ की छुट्टी दी थी नकार

साल 2011 में एमसीडी में काम करने वाले यूपी और बिहार के कर्मचारियों ने छठ त्यौहार मनाने के लिए छुट्टी मागी थी, तब भी शीला दीक्षित ने उसे सिरे से खारिज कर दिया था. यहां तक कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार तक को शीला दीक्षित से इस छुट्टी के लिए अपील करनी पड़ी थी. एमसीडी कमिश्नर द्वारा भेजे गए छठ की छुट्टी के प्रस्ताव पर उपराज्यपाल ने दिल्ली की शीला दीक्षित सरकार से राय ली, जिस पर उन्होंने असहमति व्यक्त कर दी थी, ऐसे में उपराज्यपाल ने छठ की छुट्टी का प्रस्ताव ही खारिज कर दिया था.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top