Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

एक तरफ खुशियां तो दूसरी तरफ मौत का कारण बना बोर्ड का रिजल्ट!

 Tahlka News |  2016-05-16 12:41:10.0

suicide1तहलका न्यूज ब्यूरो
वाराणसी. यूपी बोर्ड के इंटर और हाई स्कूल में अच्छे नम्बरों से पास होने वाले स्टूडेंट्स के लिए खुशियां लेकर आया है, तो वहीं धार्मिक नगरी वाराणसी में दो छात्राओं ने फेल होने के चलते सुसाइड कर लिया। सोमवार को हाई स्कूल की दो स्टूडेंट्स रितिका और प्रिया ने बोर्ड एग्जामिनेशन में फेल की वजह से सुसाइड कर लिया। जहाँ रितिका ने फांसी लगाई तो वहीं प्रिया ने केमिकल पीकर खुद की जिंदगी ख़त्म कर ली।


suicide

अंदाजा नहीं था बेटी ऐसा कदम उठा लेगी
एक तरफ फांसी लगाने वाली रितिका जो वाराणसी के रामकटोरा की निवासी थी, जिसके परिवार वालो का कहना है कि सुबह वो सभी के साथ अच्छे से बात कर रही थी। किसी को भी इसका अंदाजा नहीं था की वो ऐसा कर लेगी। उसकी आंटी का कहना था की उसकी मम्मी अपने मायके गई थी और वो ऊपर के मंजिल में नहाने के लिए चली गई। काफी देर ना आने पर जब हम ऊपर गए तो उसे फंदे से लटका पाया। जब अस्पताल ले गए तो डॉकटरो ने उसे मृत घोषित कर दिया। रितिका के परिवार वालो का रो-रो कर बुरा हाल है। वे कहते है कि उसके एग्जाम में फेल होने को लेकर किसी ने कुछ भी नहीं कहा तो फिर उसने ऐसा क्यों किया।

प्रिया ने केमिकल पीकर दी जान
वही दूसरी तरफ रामनगर की रहने वाली प्रिया ने भी बोर्ड एग्जाम में फेल होने पर घर में रखा केमिकल पी लिया। जब तक घर वालो को इसका पता चला तब तब तक प्रिया की हालत गम्भीर हो चुकी थी। उसके भी घर वालो का यही कहना है कि न जाने क्यों उसने मौत को गले लगा लिया , जबकि हमने एग्जाम में फेल होने के लिए न उसे कुछ कहा और नहीं डांटा।

suicide2

यूथ में बढ़ रहा है टेंशन
अस्पताल के डॉकटरो का कभी यही कहना है कि युवाओं की मानसिक स्थिति तुरंत रिएक्ट करने की होती है और ऐसे वक्त में माता-पिता व परिवार वालो को उन पर कोई बोझ नहीं डालना चाहिए क्योकि जिंदगी रहेगी तो ही वे कुछ कर पायेंगें। अक्सर यह देखा गया है कि जब-जब ऐसे किसी परीक्षा में कोई भी स्टूडेंट्स फेल होते हैं तो वे मौत को गले लगा लेते है। आज यूथ में मेंटल टेंशन दिन बार दिन बढ़ता जा रहा है। जिसका नतीजा काफी गम्भीर होता जा रहा है। हमारे समाज को इसके बारे में काफी गम्भीरता से समझना होगा कि पढ़ाई हो या कोई अन्य क्षेत्र जिंदगी से बड़ी कोई सफलता या असफलता नहीं है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top