Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

दो बनारसियों को मिलेगा President से अवार्ड, पीएम के Make in India से है इंस्पायर्ड

 Anurag Tiwari |  2016-12-03 09:36:42.0

Varanasi, National Merit Award, National Handicraft Award, master craftsmen, Craftsman, National Handicraft Award (2015), Kunj Bihari Singh, Sohit Kumar prajapati, Black Pottery, Azamgarh, Rameshwar, Wooden Lacquerware & Toys


तहलका न्यूज़ ब्यूरो

वाराणसी. इस बार पूर्वांचल के ज्योग्राफिकल इंडिकेशन टैग्ड प्रोडक्ट बनाने वाले तीन मास्टर क्राफ्ट्समैन को प्रेसिडेंट प्रणब मुख़र्जी द्वारा सम्मानित किया जाएगा. अवार्ड से सम्मानित किया जायेगा. इनमे से एक को नेशनल मेरिट अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा जबकि दो अन्य को नेशनल हेंडीक्राफ्ट अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा.

वाराणसी के रहने वाले गुलाबी मीनाकारी के क्राफ्ट्समैन कुंज बिहारी सिंह और आजमगढ़ के रहने वाले ब्लैक पॉटरी के क्राफ्ट्समैन सोहित कुमार प्रजापति को साल 2015 के लिए नेशनल हेंडीक्राफ्ट अवार्ड और वाराणसी के रहने वाले और लकड़ी के खिलौनों के कारीगर रामेश्वर सिंह को नेशन मेरिट अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा. इन सभी को 9 दिसम्बर को दिल्ली स्थित राष्ट्रपति भवन में आयोजित होने वाले समारोह में प्रेसिडेंट प्रणब मुख़र्जी एक लाख रुपए की धनराशी के साथ ताम्रपत्र देकर सम्मानित करेंगे.

Varanasi, National Merit Award, National Handicraft Award, master craftsmen, Craftsman, National Handicraft Award (2015), Kunj Bihari Singh, Sohit Kumar prajapati, Black Pottery, Azamgarh, Rameshwar, Wooden Lacquerware & Toys

बना दिया गुलाबी मीनाकारी से ढाई लाख का रिक्शा


गुलाबी मीनाकारी के क्राफ्ट्समैन कुंज बिहारी सिंह ने बताया कि साल 2015 में सितम्बर महीने में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी आए तो उन्होंने पैडल रिक्शा का वितरण किया था. तभी वे इस कलाकृति को बनाने के लिए प्रेरित हुए थे. उस समारोह के दौरान उन्होंने गुलाबी मीनाकारी से तैयार रिक्शा का एक मिनिएचर मॉडल पीएम नरेंद्र मोदी को गिफ्ट किया था. इसके अलावा उन्होंने पीएम मोदी ई-बोट उद्घाटन समारोह में ई-बोट का भी मिनिएचर मॉडल गिफ्ट किया था.

Varanasi, National Merit Award, National Handicraft Award, master craftsmen, Craftsman, National Handicraft Award (2015), Kunj Bihari Singh, Sohit Kumar prajapati, Black Pottery, Azamgarh, Rameshwar, Wooden Lacquerware & Toys

दे चुके हैं जिनेवा में प्रेजेंटेशन

इससे पहले कुंज बिहारी बीते साल अक्टूबर में जिनेवा में आयोजित वर्ल्ड इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी आर्गेनाईजेशन के 55वें जनरल असेंबली में इंडिया को रिप्रेजेंट कर चुके हैं. उन्होंने इस जनरल असेंबली में बनारस की मशहूर गुलाबी मीनाकारी के बारे में प्रेजेंटेशन दिया था.

Varanasi, National Merit Award, National Handicraft Award, master craftsmen, Craftsman, National Handicraft Award (2015), Kunj Bihari Singh, Sohit Kumar prajapati, Black Pottery, Azamgarh, Rameshwar, Wooden Lacquerware & Toysचार पीढ़ियों की विरासत है

कुंज बिहारी हैं कि उनके परिवार में गुलाबी मीनाकारी काम पिछली चार पीढ़ियों से हो रहा है. उन्होंने बताया कि साल 2015 में इस कला को यूमन वेलफेयर एशोशिएशन के प्रमुख डा रजनीकांत के सहयोग से इंटेलेक्चुएल प्रॉपर्टी राईट का दर्जा हासिल हुआ.

Varanasi, National Merit Award, National Handicraft Award, master craftsmen, Craftsman, National Handicraft Award (2015), Kunj Bihari Singh, Sohit Kumar prajapati, Black Pottery, Azamgarh, Rameshwar, Wooden Lacquerware & Toys

रिक्शे की खासियत

- रिक्शे का वजन एक किलो बीस ग्राम है.
- इस रिक्शे पर कलर करने के लिए चन्दन के तेल में स्वर्ण भष्म मिलाकर रंग तैयार किए गए थे.
- इसमें 1100 ग्राम सिल्वर और 4 ग्राम गोल्ड का हुआ है प्रयोग
-अन्य मजबूती के अन्य मेटल्स का भी हुआ है यूज
- रिक्शे की लंबाई-2 फिट, चौड़ाई-10 इंच और ऊंचाई-1 फिट है
- रिक्शे को 1200 डिग्री सेल्सियस तापमान पर अलग-अलग सांचों में पकाया गया है.
- हर पार्ट को अलग अलग बना इसे असेम्ब्ल किया गया है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top