Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बुन्देलखण्ड में पेयजल समस्या के समाधान के लिए 3226 इण्डिया मार्क-2 हैण्डपम्प लगेंगे

 Sabahat Vijeta |  2016-04-15 15:24:46.0


  • बुन्देलखण्ड के सातों जनपदों में पेयजल समस्या के समाधान के लिए लगने वाले इण्डिया मार्क-2 हैण्डपम्पों की संख्या 2560 से बढ़ाकर 3226 की गई

  • लगभग 21.57 करोड़ रूपये की लागत से बुन्देलखण्ड क्षेत्र के जनपदों में 3226 इण्डिया मार्क-2 हैण्डपम्प स्थापित किए जाएंगे


akhileshलखनऊ, 15 अप्रैल. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर बुन्देलखण्ड क्षेत्र के सातों जिलों में पेयजल समस्या के तात्कालिक समाधान के लिए लगाए जाने वाले इण्डिया मार्क-2 हैण्डपम्पों की संख्या 2560 से बढ़ाकर 3226 कर दी गई है। इनकी स्थापना पर खर्च होने वाली धनराशि भी 18.42 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 21.57 करोड़ रुपये कर दी गई है।


यह जानकारी आज यहां राज्य सरकार के प्रवक्ता ने देते हुए बताया कि राज्य सरकार बुन्देलखण्ड क्षेत्र में पेयजल समस्या के समाधान के प्रति अत्यन्त गम्भीर है। इसलिए इन क्षेत्रों में लगने वाले हैण्डपम्पों की संख्या को बढ़ा दिया गया है। इस पुनरीक्षण के उपरान्त अब झांसी जनपद में 700 हैण्डपम्प, जालौन में 300, ललितपुर में 400, बांदा में 400, महोबा में 500, हमीरपुर में 426 और चित्रकूट जनपद में 500 हैण्डपम्प स्थापित किए जाएंगे। इस प्रकार इन सातों जिलों में पेयजल समस्या के समाधान के लिए अब कुल 3226 हैण्डपम्प स्थापित किए जाएंगे।


उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री द्वारा हाल ही में बुन्देलखण्ड क्षेत्र की पेयजल समस्या के तात्कालिक निदान के लिए 30 करोड़ रुपये की धनराशि स्वीकृत की गई थी। इसके अन्तर्गत 18.42 करोड़ रुपये की लागत से 2560 हैण्डपम्प लगने थे। अब इन हैण्डपम्पों की संख्या बढ़ाकर 3226 कर दी गई है, जिनकी स्थापना पर लगभग 21.57 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top