Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

...तो इसलिए निलम्बित हुए सपा विधायक आबिद रज़ा

 Sabahat Vijeta |  2016-08-07 18:04:44.0

abidraza
तहलका न्यूज़ ब्यूरो


बदायूं. समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने विधायक आबिद रजा को पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने के इल्जाम में समाजवादी पार्टी और विधान मंडल दल से निलंबित कर दिया है.

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बदायूं से विधायक आबिद रजा को समाजवादी पार्टी और विधानमंडल से निलंबित कर दिया. आबिद रजा बीते कई दिन से समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता का नाम लिए बगैर उन पर आरोप लगा रहे थे. आबिद रजा ने उनसे अपनी जान को खतरा बताया था.


बताया जाता है कि बदायूं से सपा विधायक आबिद रजा का पार्टी के सांसद धर्मेन्द्र यादव से विवाद चल रहा था. आबिद रज़ा ने सांसद धर्मेन्द्र यादव पर बिजली की अंडरग्राउंड केबिल डलवाने में भ्रष्टाचार करने, अवैध खनन करवाने और गोकशी में लिप्त होने का इल्जाम लगा रहे थे. इस मुद्दे पर सांसद के समर्थन में समाजवादी युवजन सभा के जिलाध्यक्ष ने आबिद रज़ा का पुतला भी फूंका था.


abid-raza-1


जानकारी के अनुसार सांसद धर्मेन्द्र यादव और विधायक आबिद रज़ा के बीच झगड़े की असली वजह यह रही कि सांसद धर्मेन्द्र यादव के एक रिश्तेदार शहर में और सहसवान कस्बे में 133 करोड़ की लागत से जमीन में अंडरग्राउंड बिजली की केबल डलवा रहे हैं. बदायूं में 80 करोड़ रुपये की लागत से बिजली की अंडर ग्राउंड केबल पड़ रही है. आबिद की पत्नी फात्मा रज़ा शहर से नगर पालिका अध्यक्ष हैं. आबिद रज़ा शहर में अंडर ग्राउंड केबल मानक के अनुसार डलवाना चाहते थे मगर सांसद के रिश्तेदार ने उनकी बात नहीं सुनी. इसके अलावा नगर पालिका ने शहर की सड़कों की मरम्मत के लिए 24 करोड़ रुपये मांगे लेकिन नगर पालिका को कुछ नहीं मिला. काम भी लगातार जारी रहा. इसी वजह से विधायक आबिद रज़ा और सांसद धर्मेन्द्र यादव में दरार आ गई. इसी का नतीजा आज विधायक पर हुई कार्रवाई है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top