Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

उत्तर प्रदेश सम्मान से अलंकृत हुई विभूतियाँ

 Sabahat Vijeta |  2016-08-17 19:30:57.0

samman


तहलका न्यूज़ ब्यूरो


लखनऊ. साधना प्लस चैनल ने शहर के पांच सितारा होटल विवान्ता ताज में एक खूबसूरत शाम सजाई. इस शाम में विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय काम करने वाली विभूतियों को उत्तर प्रदेश सम्मान से नवाज़ा गया. प्रदेश के कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह के हाथों सम्मान पाकर यह विभूतियाँ फूले नहीं समाईं.


samman-1उत्तर प्रदेश सम्मान समारोह में एक तरफ जानी मानी पार्श्व गायिका अलका याज्ञनिक ने अपने सुरों से इस शाम को सजाया वहीं सामाजिक कार्यकर्त्ता अपर्णा यादव ने शानदार अंदाज़ में वन्देमातरम गाकर यह साबित कर दिया कि वह भी गायन के क्षेत्र की शानदार प्रतिभा हैं.


samman-2इस कार्यक्रम में पारिवारिक माहौल जैसा अहसास भी बना रहा. फिल्म अभिनेत्री अमीषा पटेल ने प्रदेश के वरिष्ठ मंत्री शिवपाल सिंह यादव के सामने जब यह प्रस्ताव रखा कि वह उन्हें लखनऊ में मकान दिला दें तो यहाँ आना-जाना बढ़ जाये तो शिवपाल सिंह यादव ने यह कहकर माहौल में ठहाके बिखेर दिये कि लखनऊ में रहने के लिये मकान की ज़रुरत नहीं होती है. यह तहजीब का शहर है पलक पांवड़े बिछाए ही रहता है. कार्यक्रम के आयोजक साधना प्लस के ब्यूरो प्रमुख बृजमोहन का दिल भी बहुत बड़ा है आप उसी में रह सकती हैं.


samman-3साधना प्लस की तरफ से शिवपाल सिंह यादव ने पार्श्व गायिका अलका याज्ञनिक, फिल्म अभिनेत्री अमीषा पटेल, नेहा धूपिया, आचार्य प्रमोद कृष्णम, राजस्व परिषद के सचिव अनिल गुप्ता, सूचना निदेशक एस.के. ओझा, आईएएस डॉ. हरिओम, अपर्णा यादव, लखनऊ के डीएम राज शेखर, उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त पत्रकार संघ के अध्यक्ष हेमंत तिवारी, डॉ. एस.के. जैन, गौरव प्रकाश और प्रदेश के प्रतिष्ठित व्यापारिक संस्थानों के कर्ता धर्ताओं आदि को उत्तर प्रदेश सम्मान से अलंकृत किया.


samman-4इस मौके पर शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि तहजीब के शहर लखनऊ में यह कार्यक्रम हो रहा है तो तहजीब की झलक यहाँ भी नज़र आ रही है. उन्होंने कहा कि इसी तरह से इकठ्ठा होने से राष्ट्रीय भावना बढ़ती है.


samman-dmश्री यादव ने यहाँ यह भी बताया कि छह महीने के भीतर लखनऊ में राजस्व परिषद की शानदार ईमारत तैयार हो गई. बरसों से किसानों को न्याय नहीं मिल रहा था लेकिन अखिलेश यादव की सरकार किसानों के साथ पूरा न्याय कर रही है. इस सरकार के कार्यकाल में भर्ती 14 हज़ार लेखपालों में एक भी शिकायत सुनने को नहीं मिली.


samman-6


साधना प्लस के ब्यूरो प्रमुख बृजमोहन ने अंत में सभी मेहमानों का आभार व्यक्त किया.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top