Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

पत्रकार की ह्त्या के बाद भी नहीं पसीजी बिहार सरकार

 Sabahat Vijeta |  2016-05-21 14:26:07.0


  • आर्थिक सहायता के नाम पर राजदेव रंजन के परिवार को फूटी कौड़ी नहीं दी


hemant-rajdev-2लखनऊ. बिहार के सीवान जिले के दैनिक हिन्दुस्तान के पत्रकार राजदेव रंजन की जघन्य हत्या पर बिहार सरकार के असंवेदनशील रुख को लेकर इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट ने गहरा शोक व्यक्त किया. IFWJ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हेमंत तिवारी व प्रेस फाउंडेशन आफ इंडिया के प्रेसिडेंट उमेश कुमार के नेतृत्व में दिल्ली और यूपी के पत्रकारों के एक प्रतिनिधिमंडल ने पत्रकार राजदेव रंजन के सीवान स्थित घर का दौरा कर वहाँ का हालचाल लिया और मृतक के परिवार के प्रति शोक संवेदनाएं व्यक्त कीं.


पत्रकारों ने राजदेव रंजन के पिता राधे चौधरी व पत्नी और बच्चों से मिलकर उन्हें ढांढस बढाया व संकट की इस घड़ी में उनका पूरा साथ देने का भरोसा दिलाया. सीवान से लौटकर IFWJ उपाध्यक्ष हेमंत तिवारी ने बताया कि जिले के हुक्काम गाँव के रहने वाले राजदेव के परिवार की आर्थिक स्थिति अत्यंत दयनीय है. मृतक पत्रकार के परिजनों में माफियाओं और दबंगों का इस कदर भय है कि वह सीवान से पलायन करने की सोच रहे हैं.


hemant-rajdevहेमंत तिवारी के मुताबिक़ सीवान स्थित मृतक राजदेव रंजन के घर पहुँच कर व परिजनों से मिलकर दिल में न केवल दर्द महसूस किया बल्कि लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ के प्रति सरकारी संवेदनहीनता व उदासीनता देखकर सर शर्म से झुक गया. घटना के दस दिन बीत जाने के बावजूद आज तक मृतक पत्रकार के परिवार से मिलने व उन्हें सांत्वना देने के लिए मुख्यमंत्री व मंत्री तो दूर इलाकाई सत्तारूढ़ दल के विधायक तक नहीं पहुंचे.


आज तक बिहार सरकार की ओर से मृतक पत्रकार के परिजनों को एक फूटी कौड़ी की आर्थिक सहायता तक नहीं दी गयी है. जबकि बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार के लखनऊ दौरे पर IFWJ द्वारा इस सन्दर्भ में ज्ञापन दिए जाने पर उन्होंने पटना पहुँचने पर तत्काल कारवाई का भरोसा दिलाया था. IFWJ उपाध्यक्ष हेमंत तिवारी व प्रेस फाउंडेशन आफ इंडिया के प्रेसिडेंट उमेश कुमार ने बिहार सरकार से 48 घंटे के भीतर मृतक पत्रकार के परिजनों को आर्थिक सहायता व पर्याप्त सुरक्षा दिए जाने की मांग की है.


hemant-rajdev-3उमेश कुमार व हेमंत तिवारी के नेतृत्व में गए पत्रकारों के प्रतिनिधिमंडल ने सिवान के जिलाधिकारी महेंद्र कुमार से मुलाक़ात की और उन्हें एक ज्ञापन सौंप कर पीड़ित परिवार को 25 लाख रूपये की आर्थिक सहायता दिए जाने की मांग की. उमेश कुमार ने इस दौरान पीड़ित परिजनों को 51 हजार रूपये की आर्थिक सहायता देने के साथ ही दोनों बच्चों की पढाई की भी जिम्मेदारी लेने की बात कही.


सीवान का दौरा करने वाले प्रतिनिधिमंडल में समाचार प्लस के यूपी हेड आलोक पांडे, पत्रकार अमितेश कुमार श्रीवास्तव, समाज सेवी विजेंद्र सिंह, आकाश, समाचार4मीडिया के अभिषेक मेहरोत्रा, शंखनाद मीडिया नेटवर्क के शिव प्रसाद सती, जी न्यूज़ के पूर्व पत्रकार सुधीर शर्मा, विकास आदि शामिल थे.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top