Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बाढ़ राहत में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों पर कार्यवाही होगी : शिवपाल

 Sabahat Vijeta |  2016-08-27 15:51:50.0

shivpal-meating


  • लोक निर्माण मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने इलाहाबाद में की बाढ़ राहत कार्यों की समीक्षा

  • बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पशुओं के लिए चारा एवं दवाओं का तत्काल वितरण सुनिश्चित किया जाये

  • बाढ़ कार्य में लापरवाही पर अधिकारियों को दी कड़ी चेतावनी


लखनऊ. लोक निर्माण मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने आज इलाहाबाद में बाढ़ राहत कार्यों की समीक्षा सर्किट हाउस में की. समीक्षा के पूर्व शिवपाल सिंह यादव ऋषिकुल उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में प्रशासन द्वारा स्थापित बाढ़ राहत शिविर में जाकर वहां बाढ़ प्रभावित लोगों से मिले और दी जा रही व्यवस्थाओं तथा खाद्य सामग्री की जानकारी ली. लोगों ने बताया कि प्रशासन द्वारा यहां पर्याप्त रूप से खाने पीने व रहने की व्यवस्थाएं मुहैया करायी जा रही हैं. यहीं पर सिविल डिफेन्स के चीफ वार्डेन अनिल अग्रवाल तथा उनकी टीम को बाढ़ राहत कार्य में लगातार प्रशासन का सहयोग देने हेतु प्रशंसा की.

सर्किट हाउस में मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने बाढ़ राहत कार्य से जुड़े अधिकारियेां के कार्यों की समीक्षा की. समीक्षा के दौरान उन्होंने स्पष्ट किया कि राहत कार्यों में लगे विभागों के अधिकारियों की लापरवाही पायी गई तो उसके खिलाफ अनुशासानात्मक कार्यवाही की जायेगी.

जनपद के सभी जन प्रतिनिधियों तथा विधायकगण द्वारा मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. आलोक वर्मा की शिकायत की गयी कि वह फोन से बात नहीं करते हैं और कार्यों में लापरवाही भी करते हैं. इस पर मंत्री नाराज हुए और जिलाधिकारी संजय कुमार से कहा कि अगर सीएमओ मनमानी करें तो उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही करते हुए तत्काल कार्यमुक्त कर दें.

मंत्री ने बाढ़ के कम होने पर संक्रामक बीमारियों के फैलने की आशंका के मद्देनजर नगर आयुक्त को उन क्षेत्रों में चुना. ब्लीचिंग पाउडर तथा फागिंग का कार्य तत्काल प्रारम्भ कराने का निर्देश दिया. मुख्य चिकित्साधिकारी को बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में चिकित्सकों की टीम लगाकर निःशुल्क दवाओं के वितरण कराने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि आवश्यक हो तो बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में कैम्प लगाकर दवाओं का वितरण करें. मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को पशुओं का टीकाकरण करने तथा उनके बीमारियों का इलाज करने का निर्देश दिया तथा इसके साथ ही बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों में पर्याप्त मात्रा में पशुओं हेतु चारा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया.

मंत्री ने कहा कि यह दैवीय आपदा है इसमें सभी को मिलकर कार्य करना है. अगर बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में लेखपाल कार्य न करें तो उनका बस्ता रखवाकर कानूनगो को चार्ज दे दिया जाये. मंत्री ने कहा कि सरकार इलाहाबाद में बाढ़ राहत के कार्यों के लिये धन की कोई कमी नही आने देगी. मंत्री ने जिलापूर्ति अधिकारी को मिट्टी के तेल व गुणवत्तापूर्ण राशन की कोई कमी प्रभावित क्षेत्रों में न होंने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि राहत कार्य में लापरवाही की शिकायत आने पर तत्काल कार्यवाही होगी. मंत्री ने कहा कि अधिकारियों के साथ ही विधायक एवं जन प्रतिनिधिगण क्षेत्रों मे जाकर बाढ़ प्रभावित लोगों के लिये कार्य करें.

मंत्री ने अधिकारियेां से कहा कि डूब क्षेत्र में मकान न बने न ही कहीं सरकारी जमीनों पर कब्जा हो. जहां सरकारी जमीनों पर कब्जा हो तत्काल उसे मुक्त कराएं. उन्होंने कहा कि अगर जनपद में कोई अधिकारी कार्य नही करेगा तो उनके खिलाफ कार्यवाही होगी. कमिश्नर से मण्डल में जहां कहीं भी बाढ़ से परेशानी हो वहां तत्काल राहत सामग्री तथा राहत की व्यवस्था करने का निर्देश दिया.

समीक्षा बैठक में विधायक गामा पाण्डेय, विजमा यादव, डॉ. अजय कुमार, परवेज आलम, जिला पंचायत अध्यक्ष रेखा सिंह सहित अन्य जन प्रतिनिधि सहित कमिश्नर राजन शुक्ला, जिलाधिकारी संजय कुमार सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top