Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

संकटमोचन मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी, बढ़ाई गई सुरक्षा

 Girish Tiwari |  2016-06-04 08:07:49.0

sankat-mochan-temple-varanasi


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
वाराणसी: 
देश के ऐतिहासिक मंदिरों में शामिल काशी के संकट मोचन मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी के बाद हड़कंप मच गया, जिसके बाद वाराणसी के सभी मंदिरों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। ये धमकी शुक्रवार को 100 नंबर फोन कर दी गई। आननफानन में भारी संख्या में फोर्स के साथ बम निरोधक दस्ता और डॉग स्क्वॉड संकटमोचन मंदिर पहुंचा। परिसर की चप्पे-चप्पे की तलाशी के बाद जब कुछ सामान्य मिला तो पुलिस ने राहत की सांस ली।


जानकारी के अनुसार, शुक्रवार की शाम करीब साढ़े सात बजे 100 नंबर पर काल आई की संकट मोचन मंदिर को बस से उड़ा दिया जाएगा। इसके बाद पुलिस कंट्रोल रूम में हलचल मच गई। लंका थाना प्रमुख द्वारा जब उस नंबर पर फोन लगाया गया तो उधर से लगातार सवालों के जबाब मिल रहे थे। फोन करने वाला व्यक्ति लगातार मंदिर व हिंदुओं के विरोध की बात कर रहा था। हालांकि सर्तकता को ध्यान में रखकर पुलिस ने मंदिर परिसर का चप्पे-चप्पे की तलाशी ली। पुलिस ने बताया कि तलाशी में कुछ निकला नहीं।


एसएसपी आकाश कुलहरि ने बताया कि उन्नाव के जावेद के मोबाइल से फोन आया था। वह नमाज पढ़ने गया तो किसी सिरफिरे ने यह शरारत की थी। इसकी जानकारी उन्नाव पुलिस को भी दे दी गई है। उस नंबर पर हमारी निगाह है। एहतियातन मंदिर की सुरक्षा बढ़ाते हुए सभी सार्वजनिक स्थानों पर संदिग्धों की तलाशी का निर्देश दिया गया है।


बतात चले कि पुलिस कंट्रोल रूम को इकबाल के नाम से फोन आया कि संकटमोचन मंदिर को बम से उड़ाने जा रहे हैं। यह सुनते ही कंट्रोल रूम से लंका थानाध्यक्ष संजीव कुमार मिश्रा को फोर्स के साथ तत्काल मंदिर पहुंचने को कहा गया। जिस नंबर से फोन आया था उस पर लंका एसओ ने बातचीत शुरू की तो उधर से काफी अपशब्द सुनने को मिला। वह फोन काटता रहा और लंका एसओ मिलाते रहे। थोड़ी देर बाद फोन स्विच ऑफ हो गया। लगभग आधा घंटे बाद फिर फोन ऑन हुआ तो लंका एसओ ने बातचीत की। फोन उठाने वाले ने बताया कि वह उन्नाव के बांगरमऊ का जावेद है। वह मस्जिद में नमाज पढ़ने गया था और उसका मोबाइल बाहर था। इसी दौरान किसी ने उसके मोबाइल से फोन कर यह शरारत की है।





Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top