Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

मेधावी विद्यार्थियों को इस बार लेटेस्ट लैपटाप से लैस करेंगे अखिलेश

 Sabahat Vijeta |  2016-10-07 16:16:33.0

akhilesh-laptop
तहलका न्यूज़ ब्यूरो


लखनऊ. मेधावी विद्यार्थियों को इस बार लेटेस्ट तकनीक के लैपटाप मिलेंगे. मुख्यमंत्री अखिलेश यादव चाहते हैं कि विद्यार्थियों को जो लैपटाप सरकार की ओर से मिलें वह लेटेस्ट भी हों और उन्नत तकनीक के भी हों. उन्होंने आज निःशुल्क लैपटाप वितरण योजना के तहत मेधावी छात्र-छात्राओं को वितरित किए जाने वाले लेटेस्ट लैपटाप की विशेषताओं का आज अवलोकन किया। तकनीक और कार्य प्रणाली के मामले में यह लैपटाप योजना के तहत पूर्व में वितरित किए गए लैपटाप से उन्नत व बेहतर है। नई तकनीक पर आधारित इस आधुनिक लैपटाप से छात्र-छात्राएं सुगमता और अधिक तेजी के साथ कार्यों को सम्पादित कर सकेंगे। मुख्यमंत्री जल्दी ही लैपटाप वितरण की शुरुआत करेंगे।


यह जानकारी देते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि पारदर्शी व्यवस्था के तहत आपूर्ति किए जाने वाले इन आधुनिक लैपटाप की पहली खेप पहुंच चुकी है। शीघ्र ही लैपटाप वितरित किए जाने का कार्य प्रारम्भ होगा। हाईस्कूल व इण्टरमीडिएट परीक्षाओं के मेधावी छात्र-छात्राओं को वितरित किए जाने वाला यह लैपटाप लेटेस्ट जनरेशन के प्रोसेसर से युक्त होगा। इसका क्वाड कोर प्रोसेसर एक ही समय में कई फंक्शन्स को तेज गति से संचालित कर सकेगा, जो कि पूर्व में वितरित लैपटाप के डूयल कोर प्रोसेसर से बेहतर होगा। साथ ही, इसमें एडवान्स्ड Radeon R-4 ग्राफिक्स का उपयोग किया गया है, जो ग्राफिक एप्लीकेशन्स को अधिक सुगमता और कुशलता के साथ प्रदर्शित कर सकेगा।


akhilesh-laptop-2


प्रवक्ता ने बताया कि इस लैपटाप की मेमोरी पूर्व के लैपटाप के मुकाबले दोगुनी की गई है। इस बढ़ी हुई रैम से एप्लीकेशन्स को तेज गति से कार्यान्वित किया जा सकेगा। नए व आधुनिक लैपटाप में अपग्रेड यूएसबी वर्जन 3.0 है, जबकि पूर्व में यह 2.0 था। इससे डाटा ट्रांसफर स्पीड बढ़ेगी। इसके साथ ही, इस लैपटाप का आपरेटिव सिस्टम लेटेस्ट विण्डोज-10 है, जोकि प्री-लोडेड होगा। पूर्व में यह आपरेटिव सिस्टम विण्डोज-7 था। इसका साफ्टवेयर क्लाउड बेस्ड मैनेजमेन्ट साफ्टवेयर होगा, जोकि एप्लीकेशन्स और शैक्षणिक सामग्री को सुगमता से उपलब्ध करा सकेगा।


प्रवक्ता ने कहा कि वर्ष 2012 में लागू की गई निःशुल्क लैपटाप योजना काफी सफल रही है। इसके तहत राज्य के गरीब व किसान परिवारों के इण्टरमीडिएट पास छात्र-छात्राओं को निःशुल्क लैपटाप उपलब्ध कराकर प्रदेश सरकार इन नौजवानों को संसाधन युक्त युवाओं के समकक्ष खड़ा होने का अवसर उपलब्ध कराया। लैपटाप वितरण से समाज के विभिन्न आर्थिक वर्ग के छात्रों के बीच ज्ञान एवं तकनीक के मामले में व्याप्त असमानता को कम करने में मदद मिली। इस योजना के तहत अब मेधावी छात्र-छात्राओं को निःशुल्क लैपटाप वितरित किए जा रहे हैं। इसकी मदद से छात्र-छात्राओं को तेजी से विकसित हो रही दुनिया से जुड़ने और आधुनिक तकनीक अपनाकर विकास करने का मौका मिल रहा है। इस योजना से नवयुवकों, उनके परिवारों तथा प्रदेश के माहौल में व्यापक परिवर्तन आ रहा है।


प्रवक्ता ने कहा कि इण्टरनेट की सुविधा के बाद से शिक्षा सहित तमाम क्षेत्रों में काफी बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि उपलब्ध कराए जा रहे लैपटाप में हिन्दी, अंग्रेज़ी तथा उर्दू भाषा में कार्य करने की सुविधा दी गई है। उन्होंने कहा कि निःशुल्क लैपटाप योजना को लागू कर राज्य सरकार ने डिजिटल डिवाइड को खत्म करने का काम किया है। लैपटाप से छात्रों को देश एवं दुनिया से जुड़ने और अपना विकास करने का मौका मिल रहा है। उन्होंने कहा कि विकास के आधुनिक युग में छात्र-छात्राओं को लैपटाप से तकनीकी ज्ञान व सूचनाएं उपलब्ध हो रही हैं।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top