Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

आज से बुआ कहना बंद

 Sabahat Vijeta |  2016-09-17 12:09:25.0

akh-maya


तहलका न्यूज़ ब्यूरो 


लखनऊ. समाजवादी पार्टी और सरकार में आये चुनाव से ठीक पहले तूफ़ान ने खून के रिश्तों की राजनीतिक परिभाषा तो गढ़ी ही साथ ही मुंह बोले रिश्तों पर भी सवालिया निशान लगा दिया. चाचा को मंत्रिमंडल में 13 विभागों के साथ-साथ प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी की बधाई देकर लौटे सीएम अखिलेश को बस इस बात की खुशी है कि पिछले तीन दिन से विपक्षियों के बारे में टीवी पर एक भी लाइन की खबर नहीं चली लेकिन विपक्ष की तरफ से घरेलू झगड़े में आये तीरों से नाराज़ अखिलेश अब जवाब दोबारा सरकार बनाकर देंगे. अखिलेश अब सियासत और रिश्तेदारी को अलग-अलग रखना चाहते हैं. अब से वह मायावती को भी बुआ नहीं कहेंगे.


चुनाव करीब हैं और अखिलेश अब सिर्फ उपलब्धियों पर बात करना चाहते हैं. आज उन्होंने बहुत सी बातें इशारों-इशारों में कहीं. बोले मैं चाचा के यहाँ से चाय पीकर आ रहा हूँ और आप कहेंगे खाना खाकर आ रहा हूँ. मैं बात करूंगा समाजवादी पेंशन की और आप बात करोगे विद्या बालन की. इसलिए अब जो बात होगी सीधे-सीधे होगी. तरह-तरह के सवालों के बीच खड़े अखिलेश के सामने अचानक जब मायावती को लेकर सवाल आया तो अखिलेश ने कहा कि अब उन्हें भी बुआ कहना बंद.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top