Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सोनिया गांधी ने लिखी चिट्ठी- रायबरेली में न हो पानी की किल्लत

 Tahlka News |  2016-05-08 16:03:47.0

sonia-gandhiतहलका न्यूज ब्यूरो
रायबरेली. पूरे देश में इस वक्त पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है। देश के हुक्मरानों के ऊपर जनता को पेयजल उपलब्ध कराने का दबाव भी साफ झलक रहा है। इसी बीच कांग्रेस अध्यक्ष और रायबरेली से सांसद सोनिया गांधी ने भी अपने संसदीय क्षेत्र में पानी की किल्लत को लेकर चिंता जाहिर की है। क्षेत्र की जनता को पेयजल उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में उन्होंने रायबरेली के जिलाधिकारी को एक पत्र लिखकर नए हैंडपम्प लगाने और पुराने ख़राब पड़े हैंडपम्पों की मरम्मत करवाने की बात कही है।


वहीं, सोनिया गांधी ने जिलाधिकारी से अनुरोध किया कि वित्तीय वर्ष 2016-2017 को रायबरेली क्षेत्र के लिए ‘पानी का वर्ष’ मानकर कार्ययोजना तैयार की जाए। उन्होंने जिलाधिकारी को लिखे पत्र में कहा कि मेरी सांसद निधि और जिला आयोजना और अन्य सभी सम्भव स्रोतों से वांछित धनराशि इन योजनाओं के लिए उपलब्ध करायी जाए। पत्र में उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश होनी चाहिए कि समस्त उपलब्ध संसाधन इसी दिशा में केन्द्रित हों तथा राज्य एवं केन्द्र के स्तर पर जहां भी जरूरत पड़ेगी मेरी तरफ से मदद का पूरा प्रयास रहेगा। सोनिया ने पत्र के माध्यम से जिलाधिकारी को यह भी कहा कि अपनी कार्ययोजना में फ्लोराइड प्रभावित क्षेत्रों को आवश्यक रूप से सम्मिलित करें और मैं चाहूंगी कि आगामी जिला स्तरीय सतर्कता एवं अनुश्रवण समिति में सभी जनप्रतिनिधियों से इस मुद्दे पर विचार आमंत्रित किये जाये ताकि उन पर सार्थक चर्चा हो सके।


इस संबंध में पिछले दिनों जिलाधिकारी एवं नलकूप, हाइडिल, पेयजल निगम के अधिकारियों के साथ सोनिया गांधी के निजी सचिव धीरज श्रीवास्तव ने बैठक की। बैठक में मनरेगा द्वारा तालाबों को गहरा कराकर नहरों से जोड़ने तथा प्रत्येक ब्लाक में दो लोगों को कौशल सवर्धन योजना में टेंडर कराकर बन्द पड़े 13 हजार हैंडपम्पों की मरम्मत कराने का निर्णय लिया गया। ब्लाक स्तर पर ट्रॉली ट्रांसफार्मर की व्यवस्था की जायेगी ताकि ट्यूबेल चल सके। ग्राम सभा स्तर पर पेयजल समिति को सौर ऊर्जा आधारित पम्पों के रखरखाव की जिम्मेदारी दी जायेगी साथ ही 1344 नई बस्तियों में फ्लोराइड पानी से निस्तारण के लिए प्रशासन द्वारा शासन को अवगत कराकर सहयोग लिया जायेगा।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top