Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

मुलायम की नाराजगी के बाद और सख्त हुए शिवपाल, फिर कहा 'दे दूंगा इस्तीफा'

 Abhishek Tripathi |  2016-08-15 10:14:45.0

shivpal_yadav_resignतहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ. सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव सोमवार को सपा मुख्यालय में पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को चेतावनी देते हुए कहा कि पार्टी के ही कुछ भ्रष्ट लोग पार्टी को बदनाम करने में जुटे हैं। ऐसे लोगों को सावधान हो जाना चाहिए। मुलायम ने कहा कि शिवपाल यादव इस्तीफे की धमकी दे चुके हैं। यदि ऐसा हुआ तो पूरी पार्टी की 'ऐसी की तैसी' हो जाएगी। सब कुछ बिखर जाएगा। मुलायम के इस बयान के थोड़ी ही देर बाद इटावा में शिवपाल ने दोबारा बयान दिया कि यदि सपा से भ्रष्‍ट नेताओं को बर्खास्त नहीं किया गया तो वे इस्तीफा देने में कतई विलंब नहीं करेंगे। वहीं, रामपुर में आजम खान ने भी भ्रष्ट नेताओं के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करने की मांग की है।


मुलायम हैं बेहद नाराज
मुलायम सिंह ने आज कार्यकर्ताओं और नेताओं को डांटते हुए कहा कि मंत्री सुविधाखोर हो गए हैं और गड़बड़ी कर रहे हैं पार्टी नेता प्रॉपर्टी का धंधा कर रहे हैं और कार्यकर्ता पार्टी कमजोर कर रहें हैं। मुलायम ने चेतावनी भरे लहजे में कह दिया कि अगर मैं खड़ा हो गया तो आधे मेरे साथ भाग जाएंगे। कार्यकर्ताओं को डांटते हुए उन्होंने कहा कि काम नहीं करोगे तो जनता हटाना जानती है।


सीएम अखिलेश को भी नहीं बख्शा
सीएम अखिलेश यादव को भी मुलायम ने नही छोड़ा। मुख्यमंत्री को आगाह करते हुए उन्होंने कहा- मुख्यमंत्री जी सावधान रहिये। हमारे समय में चार राज्यों में मान्यता मिली थी। समाजवादी राष्ट्रीय पार्टी बन गयी थी। अब अखिलेश समाजवादी पार्टी को राष्ट्रीय पार्टी बनाकर दिखायें। महाराष्ट्र, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश में क्या सपा एक सीट नहीं जीत सकती? समाजवादी पार्टी केवल एक राज्य यूपी की पार्टी बनकर रह गयी है।


शिवपाल ने भी दी इस्तीफे की धमकी
स्वतंत्रता दिवस के मौके पर इटावा में मौजूद शिवपाल यादव ने कहा कि सपा में कुछ नेता भ्रष्ट हो गए हैं। उन्हें तत्काल पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया जाना चाहिए। यदि ऐसा नहीं हुआ तो मैं तत्काल इस्तीफा दे दूंगा। बता दें कि, इससे पहले शिवपाल यादव ने एक फैसला लेते हुए मुख्तार अंसारी की पार्टी कौमी एकता दल का सपा में विलय करने का फैसला लिया था। हालांकि, शिवपाल के इस फैसले से सीएम अखिलेश काफी नाराज हुए थे और कौमी एकता दल के सपा में विलय होने पर रोक लगा दी थी।


आजम खान के भी तेवर सख्त
मुलायम की नाराजगी को देखते हुए कैबिनेट मंत्री आजम खान ने रामपुर में बयान दिया कि सपा में शामिल भ्रष्ट नेताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। हालांकि, आजम ने अपने इस्तीफे देने की कोई बात नहीं कही है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top