Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

ये हैं कांग्रेस की यूपी सीएम कै‍ंडिडेट, टैंकर घोटाले में आ चुका है नाम

 Girish Tiwari |  2016-07-14 10:59:01.0

s1

तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ:
दिल्ली में 15 वर्षो तक मुख्यमंत्री रहीं शीला दीक्षित उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की तरफ से मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवार होंगी। कांग्रेस महासचिव जनार्दन द्विवेदी ने गुरुवार को पार्टी मुख्यालय में यह घोषणा की।

उन्होंने संवाददाताओं की ओर इशारा करते हुए कहा, "पहली बार आप सबका अनुमान सही साबित हुआ है।"

दिल्ली में दिसंबर 2013 में सत्ता से बाहर होने के बाद मीडिया ने संभावना जताई थी कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में शीला दीक्षिण पार्टी का चेहरा होंगी।


कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि शीला दीक्षित के खिलाफ लगे भ्रष्टाचार के आरोप कोई मायने नहीं रखते, क्योंकि अन्य राज्यों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मुख्यमंत्री भी भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे हैं।

शीला दीक्षित ने कहा कि जिम्मेदारी के लिए हाईकमान का शुक्रिया। ये चुनाव मेरे लिए चुनौती है। हम सब मिलकर मिलकर मेहनत करेंगे और कांग्रेस के लिए अच्छे नतीजे आएंगे। प्रियंका गांधी के सवाल पर उन्होंने कहा कि बिल्कुल चाहूंगी कि प्रियंका रायबरेली से बाहर कैंपेन करें। वो बहुत लोकप्रिय नेता हैं। शीला ने अपने उपर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों पर ये भी कहा कि आरोप गलत हैं और राजनीति से प्रेरित हैं। मेरे पास कोई समन नहीं आया है।

बता दें कि शीला दीक्षित का विवादों और घोटलों से भी गहरा नाता रहा है। दिल्ली की भ्रष्टाचार रोधी शाखा (एसीबी) ने गुरुवार को यहां की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को 400 करोड़ रुपये के टैंकर घोटाले में 26 अगस्त को पूछताछ के लिए समन भेजा। एसीबी प्रमुख एम.के.मीणा ने संवाददाताओं से कहा, "हमने वाटर टैंकर घोटाले के संबंध में 26 अगस्त को पूछताछ के लिए शीला दीक्षित को नोटिस जारी किया है।"

इससे पहले, एसीबी ने शीला को 2011 में लगभग 2.5 लाख के वाटर मीटर खरीदने के मामले में छह जुलाई को पूछताछ के लिए सम्मन भेजा था।

अधिकारी ने कहा कि वाटर टैंकर की निविदा प्रक्रिया में धोखाधड़ी और एक ही कंपनी को लाभ पहुंचाने के लिए 2014 में एसीबी में एक मामला दर्ज किया गया था।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top