Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

पर्यावरण बचाने के लिए मौसमों का संतुलन बनाए रखने के लिए पेड़ लगाना जरूरी

 Sabahat Vijeta |  2016-07-11 18:31:09.0

akh-plantation




  • पेड़ लगेगा तो धरती सुरक्षित रहेगी

  • पेड़ लगाने के साथ ही, तार, बाड़ आदि से पेड़ों की सुरक्षा के पूरे इंतजाम किए गए हैं

  • गंगा नदी तभी साफ होगी, जब राज्य की अन्य नदियां साफ होंगी, क्योंकि गंगा में पानी इन्हीं नदियों से आता है

  • आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे देश का सबसे लम्बा और सबसे कम समय में तैयार होने वाला एक्सप्रेस-वे

  • राज्य सरकार ने समाजवादी सिद्धान्तों और नीतियों पर चलते हुए उदाहरण योग्य काम किया है

  • मुख्यमंत्री ने पुस्तक ‘ट्रीज़ आॅफ यूपी’ का विमोचन तथा तालाबों की वेब ट्रैकिंग वेबसाइट का शुभारम्भ किया

  • मुख्यमंत्री ने जनपद कानपुर देहात में आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में शिरकत की


लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि पर्यावरण बचाने के लिए मौसमों का संतुलन बनाए रखने के लिए पेड़ लगाना जरूरी है। पेड़ लगेगा तो हमारी धरती सुरक्षित रहेगी। आज इस कार्यक्रम के दौरान बारिश भी हो रही है। समाजवादी सरकार पेड़ इसीलिए लगवा रही है कि बारिश समय से हो। क्योंकि पर्यावरण का संतुलन खराब होने से कब बारिश होगी, कब सूखा पड़ेगा, इसका पता नहीं चलेगा।


मुख्यमंत्री आज जनपद कानपुर देहात के रसूलाबाद तहसील स्थित ग्राम बहादुरपुर के वन ब्लाक में आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। वन विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा आज एक दिन में 5 करोड़ पेड़ लगाए जा रहे हैं, यह एक विश्व रिकाॅर्ड होगा। यह एक यादगार दिन है। इस दिन के लिए काफी परिश्रम किया गया है। पेड़ लगाने के साथ ही, तार, बाड़ आदि से पेड़ों की सुरक्षा के पूरे इंतजाम किए गए हैं। इनकी सिंचाई के लिए पानी की भी पर्याप्त व्यवस्था की गई है। उन्होंने इस अभियान में बड़ी संख्या में बच्चों, नौजवानों, महिलाओं और बुजुर्गों की भागीदारी के लिए आभार भी व्यक्त किया।


श्री यादव ने कहा कि पेड़ लगाने के साथ ही, नदियों की सफाई पर भी राज्य सरकार काम कर रही है। गंगा नदी तभी साफ होगी, जब राज्य की अन्य नदियां साफ होंगी। क्योंकि गंगा में पानी इन्हीं नदियों से आता है। प्रदेश की लगभग सभी नदियां गंगा में आकर मिलती हैं। प्रयाग में गंगा से मिलने वाली नदी यमुना में सबसे ज्यादा गन्दगी दिल्ली शहर से आती है। इसलिए गंगा की सफाई की सबसे ज्यादा जिम्मेदारी भी दिल्ली वालों की है। राज्य सरकार ने तालाबों को खोदने का काम किया है। बुन्देलखण्ड में एक साथ 100 से ज्यादा तालाब खोदकर उदाहरण प्रस्तुत किया गया है। इसी तरह सारस, मोर, गौरैया आदि पक्षियों को बचाने के लिए ही समाजवादी सरकार ने काम किया है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादी सरकार ने पर्यावरण की बेहतरी के लिए काम करने में उदाहरण प्रस्तुत करने साथ-साथ विकास के कार्यों जैसे सड़क, बिजली, पेयजल, स्वास्थ्य सुविधाएं, सामाजिक सुरक्षा आदि में भी देश में उदाहरण पेश किया है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे देश का सबसे लम्बा और सबसे कम समय में तैयार होने वाला एक्सप्रेस-वे है। आजमगढ़ में बहुत ही कम समय में राज्य सरकार ने नई चीनी मिल लगवाने का काम किया है। लगभग 18 लाख लैपटाॅप का निःशुल्क वितरण करके समाजवादी सरकार ने गांव-गांव तक लैपटाॅप पहुंचाकर उदाहरण प्रस्तुत किया है। समाजवादी पेंशन योजना, जिसके तहत अब लाभार्थियों की संख्या को 45 लाख परिवारों से बढ़ाकर 55 लाख परिवार कर दिया गया है, समाजवादियों की नीतियों, रीतियों का एक उदाहरण है। समाजवादी सरकार के फिर से सत्ता में आने पर सभी पात्र परिवारों को समाजवादी पेंशन योजना का लाभ दिया जाएगा।


श्री यादव ने कहा कि समाजवादी रास्ता ही खुशहाली का रास्ता है। राज्य सरकार समाजवादी नीतियों पर प्रदेश को आगे बढ़ा रही है। उन्होंने कहा कि जब प्रदेश की तरक्की होगी, तभी देश भी आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि विपक्षी जब सड़क, बिजली, पेयजल, इलाज के इंतजाम जैसी विकास के मुद्दों पर बहस नहीं कर पाते, तो कानून व्यवस्था का सवाल उठाते हैं। उन्होंने लोगों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि समाजवादी सरकार ऐसा इंतजाम कर रही है कि आगामी अक्टूबर माह से ‘100’ नम्बर डायल करने पर उसी तरह से 10 से 20 मिनट में पुलिस घटना स्थल पर पहुंचेगी, जैसे वर्तमान में ‘108’ या ‘102’ नम्बर मिलाने पर एम्बुलेन्स घटना स्थल पर पहुंचती है। उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार की यह योजना भी देश में एक उदाहरण बनेगी।


मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादी सरकार संतुलन बनाकर विकास कार्य आगे बढ़ा रही है। बड़ी संख्या में सड़कें बनाई गई हैं, तो साइकिल भी सस्ती की गई है। कन्या विद्याधन का वितरण किया गया है, तो स्कूलों में दूध और फल भी वितरित किया जा रहा है। समाजवादी सरकार की स्कूलों में बच्चों को बैग और बर्तन मुहैया कराने की योजना है। राज्य सरकार ने लैपटाॅप वितरण किया गया है, तो कामधेनु डेरी योजना के माध्यम से ग्रामीण इलाकों में दुधारू पशुओं की संख्या व दूध उत्पादन भी बढ़ाया गया है। किसानों की समस्याओं के समाधान में समाजवादी सबसे आगे हैं।


श्री यादव ने कहा कि नौजवानों को रोजगार मुहैया कराने के लिए समाजवादी सरकार ने बड़े पैमाने पर भर्तियां शुरू कराई हैं। पुलिस विभाग में 40 हजार कर्मियों की भर्ती हो चुकी है। 35 हजार पुलिस कर्मियों का परीक्षा फल तैयार है, लेकिन अदालत ने रोक लगाई हुई है। मामला निस्तारित होते ही परीक्षा फल घोषित कर दिया जाएगा। पुलिस विभाग में अभी लगभग 1 लाख से ज्यादा सिपाहियों की कमी है। इनकी भर्ती प्रक्रिया चलती रहेगी। उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार ने पुलिस भर्ती प्रक्रिया को सरल बनाया है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने समाजवादी सिद्धान्तों और नीतियों पर चलते हुए उदाहरणपरक काम किया है, लेकिन अभी और भी काम किया जाना है। समाजवादी सरकार ने बड़ी संख्या में शिक्षामित्रों को समायोजित किया है। आंगनबाड़ी केन्द्रों में काम करने वाली बहनों और आशा कार्यकत्रियों की भी बड़ी समस्याएं हैं। इनकी मांग भी बड़ी है, इनके लिए भी काम किया जाएगा।


मुख्यमंत्री ने इस मौके पर वन विभाग द्वारा पुस्तक ‘ट्रीज़ आॅफ यूपी’ का विमोचन तथा जल बचाओ अभियान योजना के अन्तर्गत तालाबों की वेब ट्रैकिंग वेबसाइट का भी शुभारम्भ किया।


कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए वन मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा वन सम्पदा बढ़ाने के साथ ही, लायन सफारी, गौरैया संरक्षण, सारस पक्षी के बचाव आदि सहित अन्य जन्तु सम्पदा को संरक्षण दिया जा रहा है।


मुख्य सचिव दीपक सिंघल ने अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों को आपसी सामन्जस्य बनाकर सरकार की कल्याणकारी व लाभपरक योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाकर उनका लाभ दिलाने का आह्वान किया। पूर्व मंत्री शिवकुमार बेरिया व प्रमुख सचिव वन संजीव सरन ने भी उपस्थित जन समुदाय को सम्बोधित किया। इस अवसर पर अन्य जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी व बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top