Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी चुनाव: मुस्लिम वोटों के लिए बना 'इत्तेहाद फ्रंट', 10 छोटी पार्टियां हुईं शामिल, मुश्किल में सपा

 Abhishek Tripathi |  2016-07-20 04:18:59.0

Ittedah_frontतहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ. यूपी विधानसभा चुनाव में मुस्लिम वोटों की दावेदारी के लिए एक नया फ्रंट 'इत्तेदाह फ्रंट' बन गया है। करीब 10 छोटी-छोटी पार्टियों ने मिलकर इस फ्रंट को बनाया है। फ्रंट का उद्देश्य मुस्लिम वोटों को न बंटने देना है। फ्रंट के संयोजक मुस्लिम लीग के नेता मोहम्मद सुलेमान होंगे। इत्तेहाद फ्रंट में जो पार्टियां शामिल हैं, उनमें पीस पार्टी को छोडकर किसी का एक विधायक तक नहीं है। वहीं, इस फ्रंट के बनने से सपा खेमे में मुश्किलें बढ़ गई हैं। सूत्रों की मानें तो, यूपी में सपा की मुस्लिम वोट बैंक पर अच्छी पकड़ है।


फ्रंट के नेताओं ने बैठक में ये रणनीति बनाई है कि ये पार्टियां खुद अपना उम्मीदवार भी मैदान में उतारेंगी और किसको समर्थन करना है इसके बारे में भी मिल बैठकर फैसला करेंगी। किस पार्टी से हाथ मिलाना है इस पर फैसला बाद में होगा।


यूपी में हर चुनाव के पहले ऐसी पार्टियां और फ्रंट बनने का चलन बहुत पुराना है। लेकिन हमेशा ही ऐसे मोर्चे चुनाव के वक्त बिखर जाते हैं। आरोप ये भी लगते हैं कि मोर्चा बनाकर तोलमोल करने के बाद ये पार्टियां और उनके नेता बड़ी पार्टियों के हाथ बिक जाते हैं और वोटों का सौदा कर लेते हैं। इत्तेहाद फ्रंट के नेता खुद भी मानते हैं कि ये आरोप कुछ हद तक सही भी हैं और ऐसा होता रहा है। हालांकि, इस बार उनका दावा है कि वोटों का सौदा नहीं, वोटों से सियायत की तारीख लिखी जाएगी।


ये पार्टियां हुईं शामिल
इत्तेहाद फ्रंट में शामिल दलों के नाम हैं- पीस पार्टी, इंडियन नेशनल लीग, इंडियन यूनियन मुस्लिल लीग, वेलफेयर पार्टी ऑफ इंडिया, राष्ट्रीय उलेमा कांउसिल, सोशल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ इंडिया, मुस्लिम मजलिस, मुस्लिम लीग, परचम पार्टी और इत्तेहाद-ए-मिल्लत कॉन्फ्रेंस।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top