Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

समाजवादी सरकार की कोशिश है कि यूपी के नौजवानों को उनके घर के पास ही रोजगार मिले: अखिलेश 

 Vikas Tiwari |  2016-11-12 14:29:17.0

akhilesh-yadav-cm-up


राज्य सरकार ने नई आईटी नीति बनायी, राजधानी लखनऊ को आई.टी. हब के रूप में विकसित करने के प्रयास किए, एच.सी.एल. आई.टी. सिटी इसी प्रयास का नतीजा


मुख्यमंत्री ने एच.सी.एल. आई.टी. सिटी में आयोजित कार्यक्रम में इस संस्थान में नौकरी पाने वाले फ्रेशर्स को सम्बोधित किया


लखनऊ. मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि राज्य की समाजवादी सरकार की हमेशा यह कोशिश रही है कि उत्तर प्रदेश के नौजवानों को उनके घर के पास ही रोजगार मिले, ताकि उन्हें इसके लिए मजबूर होकर दूर-दराज के क्षेत्रों में न जाना पड़े। इसे ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने आई.टी. नीति बनायी और प्रदेश की राजधानी लखनऊ को आई.टी. हब के रूप में विकसित करने के प्रयास शुरू किए। एच.सी.एल. के संस्थापक शिव नाडर का विशेष आभार जताते हुए उन्होंने कहा कि श्री नाडर ने लखनऊ को अपनी कार्यस्थली बनाकर प्रदेश के नौजवानों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए हैं।


मुख्यमंत्री ने यह विचार आज यहां एच.सी.एल. आई.टी. सिटी में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान इस संस्थान में नौकरी पाने वाले फ्रेशर्स को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। इन नौजवानों को बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि जिस जगह पर यह संस्थान स्थापित किया गया है, पहले वहां पर एक फार्म हुआ करता था, लेकिन राज्य सरकार के सक्रिय प्रयासों के कारण आज यहां पर एच.सी.एल. आई.टी. सिटी स्थापित हो गया है और नौजवानों को यहां रोजगार भी मिल रहा है। यह आई.टी. सिटी बहुत ही कम समय में तेजी से विकसित किया गया। उन्होंने आशा व्यक्त की कि यह संस्थान भविष्य में आई.टी. का उत्कृष्ट केन्द्र साबित होगा।


फ्रेशर्स को राज्य सरकार द्वारा कराए गए विकास कार्याें के बारे में बताते हुए श्री यादव ने कहा कि प्रदेश में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे जैसा तीव्रगामी सड़क मार्ग बनकर तैयार है। इसके माध्यम से कम समय में लम्बी दूरी तय की जा सकेगी। समाजवादी सरकार लोगों को ‘डोर-टू-डोर’ तेज आवागमन सुविधा उपलब्ध करा रही है। लखनऊ मेट्रो रेल का ट्रायल शुरू होने वाला है। इसका निर्माण बहुत ही कम समय में कराया गया है। इसके अलावा, अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, अमूल दुग्ध प्लाण्ट, कैंसर हाॅस्पिटल के साथ-साथ बडे़ पैमाने पर आर.ओ.बी., पुलों इत्यादि का निर्माण पूरे प्रदेश में सुनिश्चित किया गया है। 50 जिला मुख्यालयों को 04-लेन मार्गाें से जोड़ा गया है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में अनेक जनकल्याणकारी योजनाएं लागू की गई हैं। समाजवादी पेंशन योजना के माध्यम से 55 लाख गरीब परिवारों को लाभान्वित किया जा रहा है। महिलाओं की सुरक्षा की दृष्टि से ‘1090’ विमेन पावर लाइन स्थापित की गई है, जिसका भरपूर लाभ महिलाओं को मिला है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने विद्यार्थियों को 18 लाख निःशुल्क लैपटाॅप उपलब्ध कराए हैं, जिनका वे भरपूर उपयोग करके अपनी सफलता के द्वार खोल रहे हैं। इसी प्रकार लोगों का जीवन आसान बनाने के उद्देश्य से समाजवादी स्मार्ट फोन योजना लागू की गई है।


श्री यादव ने कहा कि समाजवादियों ने काम करके दिखाया है। साथ ही, शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के बीच संतुलन भी बनाया है। उन्होंने युवाओं से कदम से कदम मिलाकर चलने का आह्वान करते हुए कहा कि अभी हम सबको अगले तीन-चार दशकों तक एक साथ काम करना है।


इस अवसर पर मुख्यमंत्री का स्वागत एच.सी.एल. के उच्चाधिकारियों द्वारा बुके भेंटकर किया गया। उन्होंने एच.सी.एल.आई.टी. सिटी कैम्पस का अवलोकन भी किया।


कार्यक्रम में राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चौधरी, प्रमुख सचिव सूचना नवनीत सहगल, विशेष सचिव मुख्यमंत्री जी.एस. नवीन कुमार, एच.सी.एल. के उच्चाधिकारियों सहित लगभग 200 फ्रेशर्स मौजूद थे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top