Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

सपा का इमरजेंसी राष्ट्रीय अधिवेशन आज, पोस्‍टरोंं से शिवपाल का नाम गायब

 Girish |  2017-01-01 04:24:19.0

c1dh2qxuqaartm3


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ:
समाजवादी पार्टी में मचे सियासी घमासान के बीच यूपी के सीएम अखिलेश यादव और पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव ने लखनऊ में रविवार को समाजवादी पार्टी का इमरजेंसी राष्ट्रीय अधिवेशन बुलाया है। यह अधिवेशन जनेश्वर मिश्र पार्क में होगा।



खास बात ये है कि विशेष अधिवेशन के लिए जनेश्वर मिश्र पार्क में लगी होर्डिगों में सपा प्रदेश अध्‍यक्ष शिवपाल सिंह यादव का नाम और फोटो नहीं है। इसके अलावा शिवपाल के करीबी कई विधायको को भी होर्डिग से दूर रखा गया है। वहीं, सूत्रों की माने तो अमर सिंह को लेकर अधिवेशन से अच्छा संदेश नही आने वाला है।


दिलचस्प बात यह है कि मुलायम सिंह यादव ने इस अधिवेशन को असंवैधानिक करार दिया था। मुलायम का कहना था कि इसका अधिकार सिर्फ अध्यक्ष को है। हालांकि, शक्ति परीक्षण में अखिलेश की तरफ पलड़ा झुकने के बाद मुलायम को झुकना पड़ा।


मुलायम सिंह यादव के साथ शनिवार को हुई मुलाकात में अखिलेश यादव अपनी ये बात भी मनवाने में सफल रहे कि राष्ट्रीय अधिवेशन होगा। लिहाजा एक जनवरी को पार्टी का इमरजेंसी राष्ट्रीय अधिवेशन होना तय हो गया है।


अखिलेश ने सभी पार्टी कार्यकर्ताओं को अधिवेशन में आने को कहा है। अखिलेश ने साबित कर दिया कि अब वो ही समाजवादी पार्टी हैं, इसलिए वो अपनी सभी बात मनवाने में सफल रहे हैं। अब अखिलेश ये चाहेंगे कि संगठन में उन्हें बड़ा पद मिले। सूत्रों की माने तो वो राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद भी हो सकता है।


सपा लगातार ये कह रही है कि वो राज्य की 403 विधानसभा सीटों पर चुनाव लडने को तैयार है।अखिलेश ने साफ किया है कि राष्ट्रीय अधिवेशन कोई कार्यकर्ता सम्मेलन नहीं है।इसमें राज्य की राजनीतिक स्थिति पर चर्चा होगी।


बता दें कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव की ओर से मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और रामगोपाल यादव की पार्टी में वापसी के ऐलान के बाद लगा कि यह झगड़ा खत्म हो गया है, लेकिन कुछ मांगों को लेकर अखिलेश खेमा अब भी अड़ा हुआ है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top