Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

रियो ओलम्पिक में सिंधु ने जिंदा रखीं भारत की उम्मीदें

 Girish Tiwari |  2016-08-16 04:04:50.0

sandhu
रियो डी जनेरियो. भारत की स्टार महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु पदक की सम्भावनाओं को जिंदा रखते हुए सोमवार को यहां जारी 31वें ओलम्पिक खेलों के एकल मुकाबलों के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गईं। विश्व चैम्पियनशिप में दो बार कांस्य जीत चुकीं सिंधु ने चीनी ताइपे की खिलाड़ी ताई जू यिंग को सीधे गेम में हराया।

महिला वर्ग में भारत की एकमात्र उम्मीद सिंधु ने रियोसेंट्रो पवेलियन में आयोजित यह मैच 21-13, 21-15 से जीता। यह मैच 40 मिनट चला।


सोमवार को हुए इस पहले ताई और सिंधु के बीच कुल छह मैच हुए थे, जिनमें से चार में ताई ने जीत हासिल की थी लेकिन अहम पड़ाव पर सिंधु ने बाजी मारते हुए भारत के लिए बैडमिंटन में पदक की उम्मीदें जिंदा रखीं।

क्वार्टर फाइनल में हालांकि जीत के लिए सिंधु को अपना पूरा दमखम लगाना होगा क्योंकि सामना चीन की यिहान वांग से होगा, जो लंदन ओलम्पिक में एकल वर्ग का रजत जीत चुकी हैं। साथ ही वह एशियाई चैम्पियन भी हैं और 2011 विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण हासिल कर चुकी हैं।

दुनिया की नम्बर-2 खिलाड़ी वांग से होने वाले अपने अगले मुकाबले को लेकर सिंधु ने कहा, "मैं हर चीज को लेकर चौकन्नी थी। मैं किसी एक खास रणनीति के तहत नहीं खेल रही थी। मेरा अगल मैच वांग के खिलाफ है और मुझे हर लिहाज से चौकन्ना रहना होगा। वैसे मुझे उम्मीद है कि मैं वांग को हराने में सफल होऊंगी। "

सिंधु ने यह भी कहा कि वांग के खिलाफ वह अपना बेहतरीन खेल दिखाएंगी। वांग से कैसे भिड़ना है, इस सम्बंध में मैं अपने कोच से विचार-विमर्श करूंगी। मैंने वांग के खिलाफ काफी खेला है लेकिन अंतिम मैच हुए काफी अरसा गुजर गया है। (आईएएनएस)|

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top