Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

RBI ने जारी की अपील, अगर आप फिर से कैश जमा कर घर में रखने की सोच रहे है तो...

 Girish Tiwari |  2016-12-01 05:40:30.0

2000-new-note
तहलका न्यूज़ ब्यूरो


मुंबई. 500-1000 के नोटबंदी को देखते हुए आरबीआई ने कहा की अगर आप करंसी की सप्लाइ बढ़ने के बाद 8 नवंबर से पहले की तरह घर में कैश रखने का ख्वाब देख रहे हैं तो भूल जाइए. रिजर्व बैंक और सरकार नहीं चाहते कि आप फिर से कैश जमा करने की पुरानी आदत पर चलने लगें.


अगर आप जानना चाहते हैं कि आरबीआई सिस्टम में कितना कैश रखना चाहता है तो इसके लिए 23 जून 2016 को आई ‘पेमेंट ऐंड सेटलमेंट सिस्टम्स इन इंडिया विजन 2018’ रिपोर्ट पर एक नजर डालिए.


इसमें लिखा है कि ‘आरबीआई समाज के सभी वर्गों के बीच इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट्स को बढ़ावा देना चाहता है ताकि देश को ‘कैशलेस सोसायटी’ में बदला जा सके. इसमें यह भी लिखा है कि सेंट्रल बैंक करंसी नोट की सप्लाई कम करेगा और आधार बेस्ड पेमेंट सिस्टम को बढ़ावा देगा.


बैंकों को लग रहा है कि 8 नवंबर की नोटबंदी से पहले सिस्टम में जितना कैश था, अब यह उससे काफी कम रहेगा. डी-मॉनेटाइजेशन से पहले 17.6 लाख करोड़ करेंसी होने का अनुमान था.


आगे चलकर इससे एक तिहाई कैश रहने का अनुमान लगाया जा रहा है. आरबीआई की सोच से वाकिफ एक बैंकर ने बताया, ‘अगर नोटबंदी का मकसद नोटों का सर्कुलेशन कम करना है तो पहले जितनी करंसी सप्लाई की उम्मीद करना फिजूल की बात है.


अगर लोगों को लगता है कि आरबीआई कैश सप्लाई पहले की तरह करने जा रहा है तो वे गलत साबित होंगे.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top