Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

राजकोट टेस्ट : विजय, पुजारा के शतक से भारत मजबूत

 Vikas Tiwari |  2016-11-11 17:48:32.0

राजकोट टेस्ट


राजकोट. सौराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में इंग्लैंड द्वारा पहली पारी में बनाए गए 537 के विशाल स्कोर को देखकर भारत के लिए इसका सामना करना मुश्किल लग रहा था लेकिन टेस्ट में नंबर-1 टीम ने इसका जवाब भी अपने पद के अनुरूप दिया है। भारत ने सलामी बल्लेबाज मुरली विजय (126 ) और लोकल हीरो चेतेश्वर पुजारा (124) की शानदार पारियों की मदद से पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन शुक्रवार को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया है।


दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने इन दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिए हुई 209 रनों की साझेदारी की मदद से चार विकेट के नुकसान पर 319 रन बना लिए हैं। कप्तान विराट कोहली 26 रनों पर नाबाद हैं।

दिन का खेल खत्म होने से कुछ देर पहले भारत ने विजय और अंतिम गेंद पर नाइटवॉचमैन अमित मिश्रा (0) के विकेट गंवाए। हालांकि मेजबान टीम मेहमानों से अभी भी 218 रन पीछे है ऐसे में उसके लिए आगे चुनौती अभी भी कम नहीं है। बाकि बल्लेबाजों को पुजारा और विजय की राह पर चलना होगा।

इंग्लैंड के मजबूत स्कोर के सामने भारत ने भी अच्छी शुरुआत की थी। दूसरे दिन भारत ने बिना विकेट खोए 63 रन बनाए थे। हालांकि दूसरे दिन के नाबाद बल्लेबाज गौतम गंभीर (29) तीसरे दिन ज्यादा देर टिक नहीं सके। वह अपने खाते में शुक्रवार को एक रन ही जोड़ पाए थे कि स्टुअर्ट ब्रॉड ने 68 के कुल स्कोर पर उन्हें पगबाधा आउट किया।

न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने बल्ले से रन बरसा चुके पुजारा ने विजय के साथ भारत को मजबूत करने का बीड़ा उठाया और दोनों इस काम में सफल भी हुए। पुजारा ने अपने व्यवहार से विपरीत बल्लेबाजी की। अमूमन धीमी गति से रन बनाने वाले पुजारा ने अपनी पारी में कुछ तेजी दिखाई। उन्होंने सलामी बल्लेबाज विजय से पहले अपने करियर का नौवां शतक पूरा किया।

चायकाल से पहले वह अपने शतक से एक रन दूर थे। दिन के तीसरे सत्र में आते ही पुजारा ने अपना शतक पूरा किया। इंग्लैंड के लिए परेशानी का सबब बन चुकी इस जोड़ी को तोड़ने के लिए अंग्रेज गेंदबाजों ने हर दांव खेला लेकिन विफल रहे।

अंतत: इस मैच में इंग्लैंड के लिए बल्ले से अहम योगदान दे चुके बेन स्टोक्स ने गेंद से भी टीम का भला किया और पुजारा को स्लिप पर कप्तान एलिस्टर कुक के हाथों कैच कराया। पुजारा ने 206 गेंदों में 17 चौके लगाए।

पुजारा के जाने से पहले दूसरे छोर पर खड़े विजय ने 16 पारियों के सूखे को तोड़ते हुए अपना शतक पूरा किया। उन्होंने ब्रॉड पर लगातार दो चौके जड़ते हुए इस शतक बनाया।

भारतीय कप्तान कोहली ने पुजारा के जाने के बाद विजय का साथ दिया। दोनों ने टीम को मजबूती प्रदान की और तीसरे विकेट के लिए 41 रनों जोड़े। आदिल राशिद ने स्टम्पस होने से कुछ देर पहले ही विजय की पारी का अंत किया। विजय ने अपनी पारी में 301 गेंदों में नौ चौके और चार छक्के लगाए।

विजय के जाने के बाद मैदान पर आए नाइटवॉचमैन मिश्रा अगले ही ओवर में जावेद अंसारी की गेंद पर आउट हुए। इसी के साथ दिन का खेल खत्म करने की घोषणा कर दी गई।

कोहली इस दौरान इंग्लैंड के खिलाफ अपने खराब रिकार्ड को बेहतर करने के मूड में दिखे और अभी तक सफल भी रहे हैं। कुक भी जानते हैं कि अगर कोहली जम गए तो अकेले मैच का पासा पलट सकते हैं। ऐसे में चौथे दिन मेहमानों की नजरें भारत को जल्दी समेटने पर रहेंगी।


Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top