Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

बेकल उत्साही के निधन पर राजबब्बर ने शोक व्यक्त किया

 Vikas Tiwari |  2016-12-03 15:53:21.0

Raj Babbar


तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. वयोवृद्ध कांग्रेस नेता-पूर्व सांसद एवं सुप्रसिद्ध कवि, साहित्यकार बेकल उत्साही (88 वर्षीय) जनपद बलरामपुर के निधन पर अ0भा0 कांग्रेस कमेटी के महासचिव-प्रभारी यूपी गुलाम नबी आजाद नेता प्रतिपक्ष-राज्यसभा, यूपी कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजबब्बर, सांसद ने गहरा शोक प्रकट करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति एवं शोक संतप्त परिजनों को इस असह्य दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।

स्व0 बेकल उत्साही के निधन की दुःखद जानकारी मिलने पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर जी की अध्यक्षता में प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में शोक सभा आयोजित की गयी एवं शोक प्रस्ताव पारित कर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गयी।


शोक प्रस्ताव में कहा गया है कि स्व0 बेकल उत्साही का जन्म 1928 में बलरामपुर जनपद में हुआ था, उनका वास्तविक नाम मु0 शफी खां था, उनके पिता का नाम मोहम्मद जाफर खान था। 1948 में देवाशरीफ में एक बुजुर्ग ने किसी बात पर चिढ़कर ‘बेकल’ कह दिया, इसके बाद जोकजीवन संबंधी एक गीत के सहज भाव से प्रभावित होने पर उन्होने अपना नाम ‘बेकल’ रख दिया। 1952 में पं0 जवाहर लाल नेहरू जी की गोण्डा की एक चुनावी सभा में एक लोकजीवन आधारित गीत गाने पर उन्हें किसी ने (पं0 महेश) बड़ा उत्साही कह दिया, इसके बाद उन्होने ‘बेकल उत्साही’ नाम अपना लिया। बेकल उत्साही जी को 1976 में साहित्यिक सेवा के लिए भारत के राष्ट्रपति द्वारा ‘पद्मश्री’ की उपाधि प्रदान की गयी। वर्ष 1987 में भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी जी द्वारा उनकी साहित्यिक सेवाओं को देखते हुए देश के उच्च सदन ‘राज्यसभा’ का सदस्य मनोनीत किया गया।


शोक प्रस्ताव में आगे कहा गया है कि शोक सभा ईश्वर से प्रार्थना करती है कि वह दिवंगत आत्मा को शांति तथा उनके परिजनों को इस दुःख को सहन करने का साहस औरसमर्थ प्रदान करे।


प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि स्व0 बेकल उत्साही जी के एक राजनेता और कवि के रूप में उनके द्वारा कंाग्रेस पार्टी, जनमानस और साहित्य साधना के क्षेत्र में किये गये योगदान को कभी भी विस्तृत नहीं किया जा सकेगा। उनके निधन से राजनीतिक और साहित्यिक क्षेत्र की अपूरणीय क्षति हुई है, जिसकी पूर्ति निकट भविष्य में संभव नहीं है।


शोक सभा में प्रमुख रूप से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर के अलावा प्रदेश कांग्रेस अनुशासन समिति के चेयरमैन एवं पूर्व मंत्री रामकृष्ण द्विवेदी, संगठन प्रभारी एवं पूर्व विधायक फजले मसूद, प्रवक्ता वीरेन्द्र मदान, महामंत्री-प्रशासन प्रमोद सिंह, महामंत्री हनुमान त्रिपाठी, अवधेश सिंह, स्रोत गुप्ता, बृजेन्द्र कुमार सिंह, सम्पूर्णानन्द मिश्र, अजय कुमार सिंह अज्जू, सुधा सिंह, सुशीला शर्मा, राम गोपाल सिंह सहित सैंकड़ों कांग्रेसजनों ने स्व0 बेकल उत्साही को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top