Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

काशी का दर्द :जरा सी बारिश से जानलेवा गड्ढों पर पड़ जाता है पर्दा

 Anurag Tiwari |  2016-09-08 04:58:08.0

वाराणसी, बाढ़, जल भराव, एक्सीडेंट, प्रधानमंत्री, नरेन्द्र मोदी, काशी, बनारस, संसदीय क्षेत्र

तहलका न्यूज ब्यूरो

वाराणसी. धर्मनगरी एक ऐसा शहर बन कर रह चुका है जो वाकई भगवान् भरोसे है. कहने को यह पीएम नरेन्द्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है, लेकिन अब यह अपनी इसी खासियत का दंश झेल रहा है.

हालात यह हैं कि अब उत्तर प्रदेश सरकार के विभागों ने भी यहां  की व्यवस्था पर ध्यान देना छोड़ा दिया है. शहर का ऐसा कोई कोना नहीं होगा जहां सड़क पर जानलेवा गड्ढा न बन चुका हो. डीएम का आदेश है 15 सितम्बर तक सभी सडकें दुरुस्त हो जाएं लेकिन सम्बंधित विभागों के कान पर जूं  रेंगती नजर नहीं आती.


वाराणसी, बाढ़, जल भराव, एक्सीडेंट, प्रधानमंत्री, नरेन्द्र मोदी, काशी, बनारस, संसदीय क्षेत्र

बीते दो दिनों से वाराणसी में रुक-रुक कर बारिश हो रही है. शहर के कई इलाकों से अभी करीब हफ्ते भर पहले की बारिश का पानी निकला नहीं कि बारिश फिर से शुरू हो गई है.

आशापुर से कज्जाकपुरा रोड पर स्थित पुराना पुल पुलिस चौकी के पास सीवर का गंदा पानी महीनों से सड़क पर बह रहा है. पहले से यहां मौजूद छोटा गड्ढा ट्रैफिक के चलते बड़े और जानलेवा गड्ढे में तब्दील हो चुका है.

हालत यह है कि यहां सीवर के पानी के साथ-साथ बारिश का पानी भर जाने के चलते गड्ढे की गहराई का अंदाजा नहीं लगता. इसके चलते आए दिन एक्सीडेंट हो रहे हैं, छोटी गाड़ियाँ इस गड्डे मे फंसकर पलट जा जाती हैं. इस गड्ढे के चलते कई लोग घायल होकर इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती हो चुके हैं.

वाराणसी, बाढ़, जल भराव, एक्सीडेंट, प्रधानमंत्री, नरेन्द्र मोदी, काशी, बनारस, संसदीय क्षेत्र गोदौलिया निवासी संतोष अपने परिवार के साथ ई-रिक्शा में बैठकर सारनाथ घूमने जा रहे थे. इसी गड्डे में फंसकर ई-रिक्शा पलट गई जिसके चलते संतोष का बाया हाथ टूट गया और पत्नी सपना के पैर मे चोट लग गई. गंदे पानी मे परिवार को गिरा देख राहगीर और दुकानदारो ने उन्हें बाहर निकाला.

स्थानीय नागरिको का कहना है कि इसकी शिकायत नगर निगम  के अधिकारियों के साथ-साथ कई बार सौ नंबर पर भी दी जा चुकी लेकिन नतीजा सिफर ही रहा है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top