Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

चुनावी दौरे के लिए उड़नखटोले के जुगाड़ में जुटी पार्टियां

 Girish Tiwari |  2016-08-28 05:58:45.0

choppers
लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव करीब आता देख राजनीतिक पार्टियां अपनी चुनावी तैयारियां दुरुस्त करने में जुट गई हैं। चुनाव से पहले पार्टियों ने तूफानी चुनावी दौरों के लिए हेलीकॉप्टर बुक करने की कवायद शुरू कर दी है। चुनाव में केंद्रीय मंत्रियों व उप्र के दिग्गज नेताओं के दौरों के लिए भाजपा सबसे ज्यादा उड़नखटोले किराए पर लेने की तैयारी में है। जबकि सपा, बसपा व कांग्रेस भी पिछली बार से ज्यादा हेलीकॉप्टर किराए पर ले रहे हैं। हालांकि इन कंपनियों ने अब तक किसी भी पार्टी के साथ सौदा पक्का होने की पुष्टि नहीं की है।


दरसअल, इसके पीछे मकसद ज्यादा से ज्यादा वोटरों के बीच पहुंचने की होड़ है। हेलीकॉप्टर से नेता एक दिन में आठ-दस सभाएं कर सकते हैं। इसीलिए पार्टियों ने हेलीकॉप्टर वाली कंपनियों से रेट को लेकर बातचीत शुरू कर दी है।


एयरलाइंस सूत्रों के अनुसार, भाजपा करीब दर्जनभर हेलीकॉप्टर किराए पर लेने का विचार कर रही है। जबकि सपा छह से लेकर आठ हेलीकॉप्टर ले सकती है। वहीं कांग्रेस चार से लेकर छह तक और बसपा पांच-छह हेलीकॉप्टरों को किराए पर लेने पर विचार कर रही है।


कुछ क्षेत्रीय पार्टियां भी एक-एक हेलीकॉप्टर किराए पर ले सकती हैं। चॉपर्स वाली कंपनियों के प्रतिनिधि भी मानते हैं कि कई दलों के नेता उनके सम्पर्क में हैं। परन्तु वह कितने दिनों के लिए कितने हेलीकॉप्टर किराए पर लेंगे यह तय नहीं हो सका है। हालांकि अगले महीने तक डील पक्की हो जाएगी।


सुरक्षा के मद्देनजर राजनीतिक पार्टियां ट्विन इंजन के चॉपर्स की ज्यादा डिमांड कर रही हैं। इसका फायदा यह होगा कि अगर एक इंजन में कोई प्रॉब्लम आ गई तो दूसरे इंजन के भरोसे वह अपना सुरक्षित सफर तय कर लेंगे। सिंगल इंजन के हेलीकॉप्टर्स का किराया सस्ता तो जरूर है, लेकिन लंबी दूरी तय करने के मामले में राजनेता इन पर भरोसा कम करते हैं।


हेलीकॉप्टर वाली कंपनियों के अनुसार सिंगल इंजन वाले विमानों का किराया इस बार 90 हजार रुपये से लेकर एक लाख रुपये प्रति घंटे तक रहेगा। वहीं ट्विन इंजन वाले चॉपर्स का किराया 1.80 लाख रुपये प्रति घंटे से लेकर 2.25 लाख रुपये प्रति घंटे तक हो सकता है। यह किराया बिहार चुनाव की तुलना में 10 से लेकर 15 फीसदी ज्यादा होगा।


चुनाव के दौरान जितने ज्यादा हेलीकॉप्टर अमौसी एयरपोर्ट से उड़ान भरेंगे, उसे उतना ही फायदा होगा। एक ओर उसे लैंडिंग चार्ज व प्रति पैसेंजर के हिसाब से चार्ज मिलेगा वहीं अगर रात में हेलीकॉप्टर की पार्किं ग होगी तो पार्किं ग चार्ज भी मिलेगा। पार्किं ग चार्ज औसतन करीब 10 हजार प्रति हेलीकॉप्टर के हिसाब से मिलता है।


भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य के अनुसार, "हम चुनावी तैयारियों को अंतिम रूप दे रहे हैं। प्रचार अभियान के अंतर्गत हेलिकॉप्टरों की व्यवस्था भी उसी का हिस्सा है।"


पूर्व मंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सत्यदेव त्रिपाठी ने कहा कि कांग्रेस चार हेलीकॉप्टर किराए पर लेने पर विचार कर रही है। इनमें से दो हेलीकॉप्टर सोनिया गांधी, राहुल गांधी व प्रियंका के लिए रिजर्व रहेंगे। अन्य दो हेलिकॉप्टरों से प्रदेश अध्यक्ष के साथ ही दूसरे बड़े कांग्रेसी नेता नौ अक्टूबर के बाद चुनावी सभाएं करेंगे।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top