Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

दीवाली से पहले बनारस को मिलेगा ये बड़ा तोहफा

 Anurag Tiwari |  2016-10-19 03:58:57.0



Piped Gas, CNG, LNG, LPG, GAIL, तहलका न्यूज ब्यूरो


वाराणसी. पीएम नरेंद्र मोदी की 24 अक्टूबर
को वाराणसी दौरे पर आ रहे है. इस दिन वे दीवाली के पहले अपने संसदीय क्षेत्र को बड़ा तोहफा देने जा रहे हैं. पीएम सीएनजी और पीएनजी पाइप लाइन प्रोजेक्ट, वाराणसी-इलाहाबाद रेल रूट का विद्युतीकरण और दोहरीकरण, गोरखपुर में लोको इलेक्ट्रिक शेड का शिलान्यास करेंगे. सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत नए गांव के नाम का एलान भी पीएम कर सकते हैं.


12 लाख घरों तक पाइप्ड गैस पहुंचाने का प्रोजेक्ट




पीएम वाराणसी में ऊर्जा गंगा परियोजना सिटी गैस सिस्टम के प्रोजेक्ट का शिलान्यास करेंगे.  इस प्रोजेक्ट के तहत वाराणसी को फूलपुर-हल्दिया एंड बोकारो-धामरा गैस पाइप लाइन से जोड़ा जाएगा.  प्रोजेक्ट पर 1000 करोड़ रुपए का खर्च आएगा. इस प्रोजेक्ट के पूरा हो  जाने पर वाराणसी के 12 लाख गैस उपभोक्ताओं को फायदा मिलेगा.




एलपीजी से होगी सस्ती और सुरक्षित

गैस अथॉरिटी इंडिया लिमिटेड के अधिकारी बताया पाइप से सप्लाई होने वाली गैस नेचुरल गैस होती है. अन्य शहरों में जहां पाइप्ड गैस सिस्टम है वहां हर महीने एलपीजी के मुकाबले
पाइप्ड गैस की लागत 100 रुपया कम आती है. इसके अलावा पाइप्ड गैस सिस्टम में लीकेज होने की स्थिति में उपभोक्ता को खतरा काम होता है. नेचुरल गैस का घनत्व कम होने की वजह से यह हवा में ऊपर उठ जाती है. जबकि एलपीजी हवा से भारी होने के कारण नीचे बैठ जाती है और आग लगने की लगने की स्थिति में उपभोक्ता के लिए खतरा बढ़ जाता है. साथ ही इस प्रोजेक्ट पूरा होने के बाद वाराणसी के उपभोक्ताओं को गैस सिलिंडर बुक कराने में आने वाली परेशानियों से निजात मिलेगी.

 

ट्रांसपोर्ट सेक्टर में भी होगा फायदा

गेल अधिकारी ने बताया कि न केवल इससे डोमेस्टिक सेक्टर में लोगों को फायदा होगा बल्कि इससे ट्रांसपोर्ट सेक्टर के लिए भी वाराणसी को गैस सप्लाई होगी.  इससे वाराणसी में सीएनजी व्हीकल्स को पर्याप्त मात्रा में गैस सप्लाई हो सकेगी. इससे शहर में पॉल्युशन कंट्रोल  करने में भी मदद मिलेगी.

 

कैसे मिलेगा डोमेस्टिक कनेक्शन


  • फोटो आईडी के साथ रजिस्ट्रेशन फॉर्म भर कर जमा करना होगा.

  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म के साथ एप्लीकेशन फीस 300 रुपए, सिक्योरिटी डिपाजिट 5,000 रुपए और कनेक्शन के लिए 500 रुपए  कनेक्शन के समय यानि कुल 5800 रुपए जमा करने होंगे.

  • यदि कस्टमर के घर तक 15 मीटर से अधिक जीआई या कॉपर पाइप बिछानी पड़ती है तो उसका शुल्क अलग से देना होगा.

  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म जमा करने के बाद गेल के अधिकारी कनेक्शन के इलाके का फिजिबिलिटी सर्वे करेंगे कि उपभोक्ता के घर तक कनेक्शन संभव है या नहीं.

  • कनेक्शन संभव होने पर स्थानीय निकाय अधिकारियों से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट लेकर उस इलाके तक एमडीपीइ (Medium-density polyethylene) पाइप बिछाई जाएगी.

  • इसके बाद उपभोक्ता के घर तक जीआई या कॉपर पाइप बिछाई जाएगी.

  • उपभोक्ता के घर पर इस्तेमाल हो रहे एलपीजी स्टोव को पीएनजी गैस स्टोव में कन्वर्ट किया जाएगा ताकि वह पाइप्ड गैस का इस्तेमाल कर जलाया जा सके.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top