Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

माया ने फिर खेला दलित कार्ड, कहा -दलित की बेटी से खफा है पीएम मोदी

 Girish Tiwari |  2016-12-27 06:56:07.0

mayawati


तहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ.
नोटबंदी के बाद दिल्‍ली के यूनियन बैंक आॅफ इंडिया के करोलबाग ब्रांच में बसपा के खाते में 104 करोड़ और मायावती के भाई आनंद कुमार के खाते में 1.43 करोड़ जमा होने के बारे में बसपा सुप्रीमाेे ने मंगलवार को कहा कि ये दलित विरोध मानसिकता रखने वाली बीजेपी की साजिश है।


मायावती ने पीएम मोदी पर करारा निशाना साधते हुए कहा कि वो दलित की बेटी से खफा हैं। ये लोग कत्तई नहीं चाहते हैं कि एक दलित की बेटी के हाथों में सत्ता हो। बीजेपी दलित विरोधी मानसिकता वाली पार्टी है,BJP नहीं चाहती दलित की बेटी के हाथ मास्टर चाबी आये


मायावती ने कहा कि बीजेपी नेताओं ने कुछ चैनलों और कुछ अख़बारों को भी बीजेपी ने मैनेज किया है। बीएसपी ने नियमों के मुताबिक धनराशि जमा किया है। केंद्र सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर रहा है। इसी दौरान अन्य पार्टियों ने भी पैसा जमा कराया लेकिन उनकी खबर मीडिया में नहीं आई।


मायावती ने कहा कि बीजेपी के इशारे पर जानबूझकर बसपा की छवि ख़राब करने के लिए ऐसी खबर दिखाई जा रही है। उन्‍होंने कहा कि एक-एक पैसे का हिसाब है और ईमानदारी का पैसा है। मायावती ने कहा कि जब पैसा जमा किया गया था तब नोटबंदी नहीं थी। बसपा के खाते में पैसा नियमों के मुताबिक जमा हुआ। लोगों द्वारा दिया गया पैसा जमा कराया।


मायावती ने कहा कि बीजेपी जितना भी बसपा को परेशान करने की कोशिश करेगी, बीएसपी को उतना अधिक समर्थन मिलेगा। बीजेपी की तमाम कोशिशें बेकार जाएँगी और बसपा की सरकार ही बनेगी। 2017 में बसपा की सरकार भारी बहुमत के साथ बनेगी। बीजेपी के लोग हमारा काम आसान कर रहे हैं, इसलिए मैं उन्हें धन्यवाद देती हूँ। बीजेपी के लोग हमें जितना बुरा बताने की कोशिश करते हैं, बसपा को फायदा होता है।


मायावती ने कहा कि बीजेपी के लोग बुरी तरह से बौखलाए हुए हैं। अमित शाह चिल्ला-चिल्ला कर ताज प्रकरण पर बोलते रहे हैं। ताज प्रकरण का BSP से दूर-दूर तक वास्ता नही रहा। किसी फाइल पर मेरे हस्ताक्षर नही हुए है। BJP की जातिवादी मानसिकता साफ झलक रही है।


मायावती ने कहा कि बीजेपी की सरकार को 2007 में जनता ने सबक सिखाया था। बीजेपी की सरकार में जबरन मेरे खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के मामले बनाये गए। मेरे भाई के खिलाफ साजिश की गई है। जानबूझकर ऐसा बताने की कोशिश कर रहे हैं जैसे बसपा ने बढ़ा घोटाला किया हो। बसपा को राजनीतिक नुकसान पहुँचाने के उद्देश्य से बीजेपी छोटे मुद्दे को बड़ा बनाकर पेश कर रहे हैं।


मायावती ने कहा कि खास सूत्रों से जानकारी मिली है कि बसपा के अन्य प्रभावशाली लोगों को बीजेपी तंग करने की कोशिश करेगी। आयकर विभाग के नियमों के अनुसार ही आनंद कुमार ने अपने खाते में पैसे जमा कराए हैं। उन्‍होंने कहा कि मेरे भाई आनंद कुमार का अपना कारोबार है।


उन्‍होंंने कहा कि बीजेपी की बसपा के प्रति जातिवादी द्वेष और राजनीतिक द्वेष की भावना उजागर हुई है। नोटबंदी से पूंजीपति दुखी नहीं हुए हैं। पूंजीपतियों को नोटबंदी का लाभ दिया जा रहा है। नोटबंदी के बाद गरीब और मजदूर लोग कष्ट झेलने को मजबूर हैं। पीएम मोदी से कहना चाहती हूँ कि यदि उनमें ईमानदारी है तो बीजेपी के खाते में जमा किये गए पैसे का ब्यौरा दें। मायावती ने कहा कि पीएम मोदी अगर ऐसे एक-दो फैसले और ले लें तो बसपा की सरकार पक्की है।


Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top