Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

परमार्थ को मिला जमना लाल बजाज 2016 अवार्ड

 Vikas Tiwari |  2016-10-21 17:52:42.0

लाल बजाज 2016 अवार्ड

तहलका न्यूज़ ब्यूरो 
जालौन.  देश के प्रतिष्ठित जमना लाल बजाज अवार्ड 2016 ने परमार्थ संस्था द्वारा बुंदेलखंड में जल संरक्षण एवं आजीविका संवर्धन के कार्यों को सराहा है। जमना लाल बजाज अवार्ड देश के प्रतिष्ठित पुरस्कारों में से एक है। जिसके लिए देश भर से 500 से ज्यादा प्रतिष्टियां मिलीं। जिसमें प्रत्येक क्षेत्र में 10-10 बेहतर कार्य करने वाली संस्थाओं एवं व्यक्तियों को चयन किया गया।

जमना लाल बजाज पुरस्कार चार क्षेत्रों में बेहतर कार्य के लिए दिया जाता है। इनमें गांधी मूल्यों को बढ़ावा देने, साइंस एवं तकनीक को ग्रामीण विकास में प्रयोग करने, महिलाओं और बच्चों का विकास और भारत के बाहर गांधी मूल्यों के प्रचार प्रसार के लिए दिया जाता है। परमार्थ संस्था ने विज्ञान एवं तकनीक का जल संरक्षण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य किया है, जिसे सराहा गया है।

परमार्थ संस्था बुंदेलखंड के जालौन, हमीरपुर, ललितपुर, झांसी, टीकमगढ़ और छतरपुर जिलों में जल संरक्षण के लिए विभिन्न तकनीकी और देशज ज्ञान के आधार पर कार्य कर रहा है। परमार्थ संस्था ने बुंदेलखंड के 100 संकट ग्रस्त गांवों को पानीदार बनाया है। जल सहेली और पानी पंचायत के माध्यम से संस्था द्वारा किए जा रहे कार्य को भारत और विदेशों में सराहा गया है। इस साल के भयानक सूखे में परमार्थ संस्था ने सामुदायिक रसोई के माध्यम से बुंदेलखंड के 50 गांवों में कमजोर और निर्धनतम लोगों का भूख मिटाने का कार्य किया। परमार्थ का प्रयास बुंदेलखंड में सूखे के स्थायी समाधान की तरफ आगे बढ़ना है। जिसके लिए संस्था द्वारा गांव-गांव में पानी की पंचायत से जुड़े लोगों को दक्ष बनाकर उन्हें गांव के प्राकृतिक संसाधनों को संरक्षित करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। जल सहेलियां बिना किसी आर्थिक लाभ के अपने गांव की दशा सुधारने में लगीं हैं। जल सहेलियों के प्रयासों को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी सराहा है। जालौन के कुरौती गांव की अनुजा देवी को उन्होंने बेहतर कार्य के लिए सम्मानित भी किया था। संस्था के संस्थापक सचिव संजय सिंह हैं।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top