Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

66 जिलों में चल रही है कांग्रेस की शिक्षा-सुरक्षा-स्वाभिमान यात्रा

 Sabahat Vijeta |  2016-12-26 12:16:49.0

navjot kaur sidhu


लखनऊ. उ.प्र. कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग द्वारा प्रदेश के 66 जनपदों में चलायी जा रही ‘शिक्षा-सुरक्षा-स्वाभिमान’ यात्रा गांवों-गांवों, कस्बों-कस्बों में पहुंच रही है, जहां इन यात्राओं का जबर्दस्त स्वागत आम जनमानस द्वारा किया जा रहा है. दलित समाज के बीच जाकर कांग्रेस कार्यकर्ता ग्रामवासियों में बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के संदेश ‘शिक्षित बनो-संगठित हो-संघर्ष करो’ को एक तरफ जहां प्रचारित कर रहे हैं वहीं दलितों को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करते हुए कांग्रेस पार्टी के पक्ष में लामबन्द होने की अपील कर रहे हैं.


शिक्षा-सुरक्षा-स्वाभिमान यात्रा के आज 22 वें दिन यह यात्रा हापुड़ शहर न्यू ग्रीन मंडप, अमरोहा के सलेमपुर गोसाईं, सहारनपुर के बासाखेड़ी, मेरठ के अगवानपुर व बिजनौर के अमान नगर आदि जनपद के कस्बों, गांवों में होकर गुजरी. यात्राओं में अनुसूचित जाति विभाग के जिलाध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं संयोजक शामिल रहे.


हापुड़ में आयोजित जनसभा को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव-प्रभारी उ.प्र. गुलाम नबी आजाद ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की उ.प्र. में सरकार बनाने की अपील की. उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने सर्वाधिक दलित उत्थान के लिए कार्य किये हैं. उन्होने कहा कि यूपीए सरकार ने मनरेगा के माध्यम से जहां गावों में रोजगार दिया वहीं गांवों के विकास के लिए 6 लाख गांवों में सड़कें बनवायीं, इन सबसे सबसे ज्यादा लाभ दलित वर्ग को मिला. उन्होने कहा कि निःशुल्क चिकित्सा उपलब्ध कराने के लिए कांग्रेस ने एम्बुलेंस व्यवस्था करायी, आशा नर्सों की नियुक्ति की, जिससे गांवों के गरीबों को निःशुल्क चिकित्सा सुविधा मिल सके.


बिजनौर में इस यात्रा के दौरान आयोजित चौपाल को वरिष्ठ नेताओं ने सम्बोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी ने संकल्प लिया है कि दलित समाज को रोजी-रोटी, मकान और शिक्षा प्राथमिकता के आधार पर उपलब्ध करायेगी.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top