Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

चुनाव ड्यूटी में तैनात बीमार ड्राइवर को प्रशासन ने नहीं दी छुट्टी, हार्ट अटैक से हुई मौत

 Sonalika Azad |  2017-02-18 04:52:35.0

चुनाव ड्यूटी में तैनात बीमार ड्राइवर को प्रशासन ने नहीं दी छुट्टी, हार्ट अटैक से हुई मौत

तहलका न्यूज़ ब्यूरो


लखनऊ.
यूपी की राजधानी लखनऊ में 19 फरवरी को तीसरे चरण के मतदान होने वाले है इसके लिए आरटीओ ने स्कूलों की 13 बसों को लगवाया थी. इसी कड़ी में ड्यूटी पर तैनात एक स्कूल बस के ड्राइवर के अचानक ही पेट में दर्द हुआ, लेकिन उसके छुट्टी मांगने पर भी नहीं मिली. इसी दौरान उसे हॉस्पिटल ले जाते हुए ही उसकी मौत हो गई. बाद में पता चला उसे हार्ट अटैक आया था। इस घटना से गुस्साए लोगों ने जमकर प्रदर्शन किया। मौके पर पहुंची पुलिस हालत को काबू में करने में जुटी हुई है.


दरअसल, चुनावो के चलते तैनात स्कूल बस के ड्राइवर के अचानक ही पेट में दर्द हुआ, लेकिन उसके छुट्टी मांगने पर भी नहीं मिली. इसी दौरान उसे हॉस्पिटल ले जाते हुए ही उसकी मौत हो गई. बाद में पता चला उसे हार्ट अटैक आया था. चालक का नाम राम कुमार बताया जा रहा है.

इस घटना से गुस्साए लोगों ने जमकर प्रदर्शन किया।. मौके पर पहुंची पुलिस हालत को काबू में करने में जुटी हुई है. आगे पढ़िए पूरा मामला. मामला शुक्रवार की शाम लखनऊ का है. यहां विधानसभा चुनाव के चलते आरटीओ ने स्कूलों की 13 बसों को लगवाया हुआ था. सभी बसें आशियाना के अस्मित उपवन में खाड़ी कराई गई थी. इसी में एक ड्राइवर रामकुमार (40) निवासी गाजीपुर भी अपनी बस लिए खड़ा था. अचानक से उसके पेट में दर्द होने लगा. उसने दोपहर छुट्टी मांगी, लेकिन नहीं मिली. तबियत इतनी बिगड़ गई की लोगों को उसे लोकबंधु हॉस्पिटल में एडमिट कराया, लेकिन उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। - वहीं ट्रामा सेंटर पहुंचे ही डॉक्टर ने पीड़ित को मृत घोषित कर.



घटना से गुस्साए लोगों ने रोड जाम कर जमकर प्रदर्शन किया. साथ ही उन्होंने तोड़फोड़ भी मचाई. मृतक की पत्नी को निर्वाचन आयोग द्वारा ऑन ड्यूटी मृतक को दी जाने वाली 10 लाख रुपए अनुग्रह राशी देने की मांग की. साथ ही स्कूल प्रबंधन द्वारा मृतक कि पत्नी को नौर्करी और उसके बच्चों को इंटर तक की फ्री एजुकेशन देने की मांग रखी

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top