Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

ये है राष्ट्रीय भगवा फ़ोर्स- "थाने जाना हमारा काम नहीं हम तो बस ठोंक देते हैं"

 Utkarsh Sinha |  2017-04-21 13:34:32.0

ये है राष्ट्रीय भगवा फ़ोर्स- "थाने जाना हमारा काम नहीं हम तो बस ठोंक देते हैं"

तहलका न्यूज ब्यूरो

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में आजकल गली मुहल्लों में नए नए हिंदूवादी संगठन उभर रहे हैं. योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद इनमें अचानक तेजी आई है. उग्र हिंदुत्व की राह पर बने इन संगठनो का सीधा सिद्धांत मुस्लिम विरोध है और इसके लिए इन्हें हिंसा और कानून को अपने हाँथ में लेने से भी गुरेज नहीं.

ऐसा ही एक संगठन यूपी के कानपुर में उभरा है. राष्ट्रीय भगवा फ़ोर्स नाम के इस संगठन के आदर्श प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी हैं. इनके पोस्टर में तिरंगे के साथ भगवा झंडा भी शामिल है और सदस्यों में हिन्दू सवर्ण जाति के लोग.

इस संगठन के स्वयंभू जिला महामंत्री प्रन्जुल मिश्र का सीधा बयान है- जो भी गौ माता और राष्ट्र के बारे में गलत बोल रहा है हमें उसके साथ हिंसक होने में कोई संकोच नहीं.लव जिहाद भी इनके लिए बड़ा मुद्दा है. मुसलमान मुसलमान से प्यार करे और हिन्दू हिन्दू से तो हमें कोई एतराज नहीं. संगठन के एक नेता विशाल का कहना है कि ऐसे मामलों में थाने जाना हमारा काम नहीं, हमारा लक्ष्य जब सामने होता है तो हम जबान कम हाँथ ज्यादा चलने में भरोसा रखते हैं. पुलिस पर हमारा भरोसा नहीं है इसलिए फैसला खुद ही कर देते हैं. हम ऐसा कुछ देखते हैं तो बस पकड़ कर उसे ठोकने से मतलब है.
योगी आदित्यनाथ की हिन्दू युवा वाहिनी को ये संगठन अपना साथी मानता है और जरुरत पड़ने पर उसके साथ अभियानों में भी शामिल होता है. संगठन के सदय बहुत फक्र से बताते हैं कि हमारे पास तलवार और भाला है.

हर्षित मिश्र खुद को इस संगठन का जिला सचिव बताते हैं. हर्षित का कहना है –लव जिहाद वालों के लिए हमारे पास साम, दाम, दंड, भेद , यानी सबकुछ है.

बीते दिनों गले में भगवा गमछे का चलन बहुत बढ़ा है और योगी के निजी संगठन हिन्दू युवा वाहिनी पर कई आरोप भी लगे. इसके बाद हिन्दू युवा वाहिनी ने स्पष्टीकरण जारी कर इन मामलों में शामिल कई लोगों से अपने सम्बन्ध नकारे थे.

कानून व्यवस्था के नाम पर सत्ता में आई योगी सरकार के लिए इस तरह के उग्र तेवरों वाले हिंदूवादी संगठनो से निपटना बड़ी चुनौती होगी. वरना उसपर भी हिंसा को बढ़ावा देने का आरोप लगेगा.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top