Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की पार्टी कौमी एकता दल का सपा में विलय

 Girish Tiwari |  2016-06-21 08:35:53.0



shivpal_yadavतहलका न्‍यूज ब्‍यूरो
लखनऊ:
उत्तर प्रदेश में चुनावी हलचल बढ़ने के साथ ही सियासी हलचल और गुणा भाग शुरू हो गया है। मिशन 2017 के लिए सभी दल तैयारी में लगे हुए हैं। इस क्रम में मंगलवार को माफिया डॉन मुख्तार की पार्टी काैमी एकता दल का समाजवादी पार्टी में विलय हो गया। मुख्तार की पार्टी के दो विधायक हैं। अखिलेश सरकार में कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव ने मुख्‍तार अंसारी और उनके भाई अफजाल का स्‍वागत किया। अफजाल पार्टी के कौमी एकता दल के अध्यक्ष हैं। बता दें कि मुख्तार अंसारी और सिबकतुल्ला अंसारी कौमी एकता दल के दो विधायक हैं।


कौमी एकता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष माफिया से नेता बने मुख्तार अंसारी मऊ से और बड़े भाई सिबाकातुल्ला अंसारी मोहम्मदाबाद से विधायक हैं। इनके एक भाई अफजाल अंसारी पार्टी के महासचिव हैं। भाई अफजल अंसारी 2004 में गाजीपुर से सांसद थे, 2009 के लोकसभा चुनाव में बसपा से ताल ठोंकी लेकिन पराजय झेलनी पड़ी। विधान परिषद व राज्यसभा चुनाव के बाद समाजवादी पार्टी और मुख्तार अंसारी की अगुवाई वाले कौमी एकता दल के बीच गठजोड़ की चर्चा शुरू हुई। पूर्वांचल में सियासत करने वाले राज्य सरकार के कुछ मंत्रियों ने इसको न सिर्फ हवा दी बल्कि गठजोड़ बनाने का प्रयास भी तेज किया।

वहीं, शिवपाल यादव ने कहा कि कौमी एकता दल हमारे पुराने साथी रहे हैं। हम लोगों ने मिलकर यूपी में बहुत काम किया है। उनकी घर वापसी से सपा को मजबूती मिलेगी और यूपी विधानसभा चुनाव में विरोधियों को करारी हार मिलेगी। अफजाल ने कहा कि मैं अपने सभी साथियो की ओर से मुलायम सिंह और शिवपाल का स्वागत करताा हूं। उन्होंने कहा कि 1994 से मैं सपा के साथ काम किया है।

अफजाल ने पीएम मोदी पर साधा निशाना
अफजाल ने कहा कि पीएम मोदी ने जो वादे देश की जनता से किए थे, वे सभी अभी अधूरे हैं। उन्होंने देश की जनता को धोखा दिया है। यूपी चुनाव में जनता उन्हें सबक सिखाएगी। लोकसभा चुनाव में किए गए वादों को कोई पूछ न ले, इसके लिए पीएम मोदी देश की जनता को गुमराह कर रहे हैं। हम ऐसा कतई होने नहीं देंगे।

  Similar Posts

Share it
Top