Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

राजीव गांधी के प्रवक्ता रह चुके 'अकबर' मोदी कैबिनेट में शामिल, 13 लाख के हैं कर्जदार

 Abhishek Tripathi |  2016-07-05 08:32:36.0

Modi_Cabinetतहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ. मोदी कैबिनेट में मंगलवार को 19 नए चेहरों को शामिल किया गया है। इन चेहरों में एक हैं एमजे. अकबर। इन्होंने मोदी कैबिनेट में राज्यमंत्री के रूप में शपथ ली। बता दें कि एमजे. अकबर पूर्व पीएम राजीव गांधी के प्रवक्ता भी रह चुके हैं। अकबर ने हाल ही में मध्य प्रदेश से राज्यसभा चुनाव में 58 वोटों से जीत हासिल की थी। ये पहली बार है जब अकबर को केंद्र सरकार के राज्यमंत्री का पद सौंपा गया है।


50 करोड़ की संपत्ति फिर भी लाखों के कर्जदार
राज्यसभा चुनाव में भरे गए नामांकन के बाद एमजे अकबर की संपत्ति और उन पर चढ़ा कर्ज चर्चा का विषय बन गया था। एमजे. अकबर के शपथ पत्र के मुताबिक, उनके पास कुल 50 करोड़ की चल-अचल संपत्ति है। यहां हैरानी की बात ये है कि करोड़पति होने के बाद भी अकबर लाखों के कर्जदार हैं। उनके ऊपर करीब 13 लाख का कर्ज है। 50 करोड़ की कुल संपत्ति में एमजे अकबर के पास 4.67 करोड़ के नकदी, बीमा, शेयर और जेवरात हैं। इसके साथ ही 9 करोड़ के प्लॉट-मकान और पत्नी के नाम 21.43 करोड़ की संपत्ति भी अकबर की चल-अचल संपत्ति में शामिल है। 2014-15 में फाइल किए गए आईटी रिटर्न के मुताबिक उनकी आय करीब 37 लाख और पत्नी की आय 47 लाख रुपए है।


एक पत्रकार और लेखक
एमजे. अकबर राजनेता होने के साथ ही पत्रकार और लेखक भी हैं। अकबर अक्टूबर 2012 में अपने इस्तीफे तक लिविंग मीडिया समूह द्वारा प्रकाशित भारत के प्रमुख साप्ताहिक अंग्रेजी समाचार पत्रिका इंडिया टुडे के संपादकीय निदेशक रह चुके हैं। इस दौरान उन्हें मीडिया कंपनियों के संगठन तथा अंग्रेजी समाचार चैनल हेडलाइंस टुडे की देखरेख के लिए एक अतिरिक्त जिम्मेदारी भी मिली हुई थी। इसके पहले वो 2010 में साप्ताहिक समाचार पत्र 'दि संडे गार्जियन' के प्रधान संपादक भी रहे। पूर्व के दिनों में वे दक्षिण भारत की प्रमुख अंग्रेजी पत्रिका 'एशियन एज' के संस्थापक और वैश्विक परिप्रेक्ष्य के साथ इसके दैनिक मल्टी संस्करण भारतीय समाचार पत्र के प्रबंध निदेशक भी रह चुके हैं। वे हैदराबाद के दैनिक समाचार पत्र डेक्कन क्रॉनिकल के प्रधान संपादक रह चुके हैं।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top