Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

कांस फिल्म समारोह तक पहुंचा अखिलेश का ‘मेक योर फिल्म इन यूपी’ का संदेश

 Sabahat Vijeta |  2016-05-15 13:46:48.0


  • प्रदेश की नई फिल्म नीति में निर्माता और निर्देशक खासी दिलचस्पी दिखा रहे हैं

  • कनाडा, फ्रान्स, यूएसए आदि के कई निर्माताओं ने प्रदेश में आकर काम करने की इच्छा जाहिर की


akhileshलखनऊ. मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का ‘मेक योर फिल्म इन यूपी’ का संदेश अब प्रतिष्ठित कांस फिल्म समारोह में शामिल दुनिया के नामी-गिरामी निर्माता-निर्देशकों तक पहुंच गया है। प्रदेश की नई फिल्म नीति में निर्माता और निर्देशक खासी दिलचस्पी दिखा रहे हैं। कनाडा, फ्रान्स, यूएसए आदि के कई निर्माताओं ने प्रदेश में आकर काम करने की इच्छा जाहिर की है।


ई-मेल के जरिए यह जानकारी देते हुए उत्तर प्रदेश फिल्म विकास परिषद के सदस्य विशाल कपूर ने बताया कि अमेरिका, ब्रिटेन, नीदरलैण्ड तथा यूरोप के नामी गिरामी निर्माताआें रेशेन लुईस स्मिथ, क्रिस्टोफर, मार्टिन रॉबर्ट आदि ने इंडियन पवेलियन में आकर उत्तर प्रदेश की नई फिल्म नीति के बारे में जानकारी हासिल की है। इरोज स्टूडियो के मालिक किशोर लुल्ला ने मुख्यमंत्री के ‘मेक योर फिल्म इन यूपी’ संदेश में दिलचस्पी दिखाते हुए कहा कि फिल्म के हिसाब से भी उत्तर प्रदेश एक बड़ा बाजार है। मुख्यमंत्री के निर्देशन में फिल्म विकास परिषद द्वारा नई फिल्म नीति को शानदार ढंग से लागू किया जा रहा है।


श्री कपूर ने बताया कि कांस के उद्घाटन समारोह में दुनिया भर के फिल्मकारों के सामने केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने कहा कि फिल्म निर्माण के क्षेत्र में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश सरकार बेहतरीन कार्य कर रही है। वहां पर मौजूद उन फिल्म निर्माताओं ने भी उत्तर प्रदेश के बारे में अपने अनुभवों को साझा किया जिन्होंने अभी हाल ही में राज्य में शूटिंग की है। कांस में उत्तर प्रदेश की मौजूदगी से राज्य में फिल्म निर्माण के क्षेत्र में एक बड़ा परिवर्तन आ सकता है।


कांस समारोह में इंडियन पवेलियन में उत्तर प्रदेश की नई फिल्म पॉलिसी तथा प्रदेश से सम्बन्धित जानकारी लेने के लिए बड़ी संख्या में लोग आए। इन्हें यह जानकारी दी गई कि यूपी को फिल्म निर्माण के नए हब के रूप में उभारने का श्रेय मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को जाता है, जिन्होंने इस क्षेत्र में मौजूद अपार संभावनाओं को न केवल समझा, बल्कि उसके अनुरूप नीति भी तैयार करवाई। परिणामस्वरूप विश्व सिनेमा का नजरिया उत्तर प्रदेश के बारे में बदल रहा है। उत्तर प्रदेश को लोग अभी तक केवल ताज के नाम से जानते थे पर अब राज्य के अन्य दर्शनीय स्थल भी देश और दुनिया के पटल पर अपनी पहचान बना रहे हैं।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top