Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

BHU हॉस्पिटल में 20 वर्षों से बंद था मरीजों को खाना, जल्द फिर मिलेगा

 Anurag Tiwari |  2016-06-15 07:33:50.0

[caption id="attachment_88693" align="aligncenter" width="1228"]SSL, BHU फाइल फोटो: बीएचयू का सर सुंदरलाल हॉस्पिटल[/caption]

तहलका न्यूज़ ब्यूरो

वाराणसी. बीएचयू के सर सुन्दर लाल हॉस्पिटल में पिछले 20 सालों से मरीजों को मिलने वाली भोजन व्यस्व्था बंद थी। अब एक बार फिर हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन ने इसे चल्लो करने के लिए कमर कस ली है। हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन की मानें तो एक बार फिर हॉस्पिटल में एडमिट मरीजों को अगले हफ्ते से भोजन मिलने लगेगा। आने वाली 20 जून से पहले इसका ट्रायल शुरू किया जाएगा और अगर सबकुछ ठीक रहता है तो इस व्यवस्था को अगले महीने से इसे रेगुलर कर दिया जाएगा। वैसे फिलहाल प्रशासन की ओर से मरीजों को एक पैकेट दूध दिया जाता है।


बीएचयू के प्रो जीसी त्रिपाठी और आइएमएस के डायरेक्टर प्रो वीके शुक्ला की पहल पर यह इसकी शुरुआत मेडिकल सुप्रिटेंडेंट डॉ ओपी उपाध्याय ने की है। अब से 20 साल पहले तक सर सुंदरलाल चिकित्सालय में मरीजों को खान दिया जाता था। लेकिन धीरे धीरे व्यवस्था की नाकामी से यह मिलना बंद हो गया था। इसके बदले अब हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन की तरफ से मरीजों को एक पैकेट दूध दिया जाता रहा है।

नई योजना के तहत स्पेशल वार्ड को छोड़कर हॉस्पिटल में भर्ती सभी जरूरतमंद मरीजों को दो समय का भोजन दिया जाएगा। इससे मरीजों पर खाने को लेकर पड़ने वाला आर्थिक बोझ कम होगा। फिलहाल मरीजों के तीमारदारों के लिए अन्नपूर्णा भोजनालय में 20 रुपये थाली के हिसाब से भोजन की व्यवस्थाहै। सुप्रिटेंडेंट डा। ओपी उपाध्याय ने बताया कि मरीजों को भोजन दिए जाने की व्यवस्था के लिए वर्षो से बंद पड़े अस्पताल के किचन को युद्धस्तर पर दुरुस्त किया जा रहा है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top