Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

विधानसभा चुनाव नज़दीक देख के मुख्यमंत्री नाटकबाज़ी कर रहे है : मायावती

 Vikas Tiwari |  2016-10-28 11:32:37.0

 mayawati

तहलका न्यूज़ ब्यूरो

लखनऊ. बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रदेश की सपा सरकार पर जनहित व जनकल्याण के प्रति लगातार लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुये कहा कि यही कारण है कि डेंगू जैसी घातक बीमारी ने महामारी का रुप ले लिया है और काफी ज़्यादा लोगों की जान जा रही है, जिस कारण माननीय हाईकोर्ट को अब इस मामले में सीधे तौर पर दख़ल देने को मजबूर होना पड़ा है। वर्तमान स्थिति में डेंगू को तत्काल महामारी घोषित करने की ज़रूरत है।

इस बारे में माननीय कोर्ट के हस्तक्षेप व फैसले का स्वागत करते हुये मायावती ने कहा कि कम-से-कम अब सपा परिवार के विवादित व सपा सरकार के उलझे मुख्यमंत्री को अपने पारिवारिक कलह व घमासान से थोड़ा समय निकालकर डेंगू की समस्या से जूझ रहे लोगों पर भी ध्यान देना चाहिये। इस बारे में माननीय कोर्ट में केवल यह मान लेना काफी नहीं है कि डेंगू से निपटने के मामले में ढिलाई व लापरवाही बरती गयी है, बल्कि इसके लिये तत्काल समुचित प्रभावी कार्रवाई करने की जरूरत है तथा दोषी लोगों के खिलाफ सख़्त क़ानूनी कार्रवाई तत्काल होनी चाहिये। रिपोर्ट के मुताबिक़ सरकार ने मा. कोर्ट में माना है कि डेंगू से अब तक 113 मौतें हुई हैं, जबकि केवल राजधानी लखनऊ में डेंगू से 219 मौतों की खबर है तथा अस्पतालों में मरीजों की लम्बी कतार है तथा उनका काफी बुरा हाल है।
इसके अलावा, अब जबकि प्रदेश में विधानसभा का आमचुनाव बहुत नज़दीक है तो सपा सरकार के उलझे मुख्यमंत्री समाज के विभिन्न वर्गों को लुभाने के लिये किस्म-किस्म की नाटकबाज़ी कर रहे है तथा अनेकों प्रकार की घोषणायें आदि कर रहे है। इसी क्रम में ग्राम प्रधानों का मानदेय 2,500 से 3,500 करने की घोषणा तथा मध्यान भोजन के अन्तर्गत स्कूली बच्चों को सपा सरकार की प्रचार सामग्री के तौर पर खाने का बर्तन देना आदि पूर्ण रुप से सस्ती लोकप्रियता हासिल करने का प्रयास है। क्या सपा सरकार ऐसे काम काफी पहले करके उनको लागू नहीं करवा सकती थी? इसके साथ-साथ अब आगे चुनाव में अपनी कुर्सी जाते हुये देखकर वर्तमान सपा सरकार के मुखिया द्वारा आयेदिन जो भी बड़े-बड़े ‘‘आर्थिक‘‘ फैसले लिये जा रहे हैं उनकी बी.एस.पी. सरकार में जरूर जाँच करवाई जायेगी।
कुल मिलाकर कानून-व्यवस्था के साथ-साथ जनहित व जनकल्याण के मामले में घोर लापरवाह व पूरी तरह से विफल साबित होने के बाद अब वर्तमान सपा सरकार अपने चुनावी लाभ के लिये कोरी घोषणा व शिलान्यास आदि के कार्यक्रमों में ही व्यस्त है जिससे प्रदेश की आमजनता का कुछ भी भला होने वाला नहीं है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top