Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

गाजीपुर रैली के लिए पीएम को बिहार से लोग बुलाने पड़े

 Vikas Tiwari |  2016-11-14 11:17:42.0

Mayawati

तहलका न्यूज़ ब्यूरो 

लखनऊ. भाजपा की गाजीपुर रैली पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा के पूरी ताकत लगाने के बाद भी लाख लोग इकठ्ठा नहीं कर पाए जो लोग उसमें आये भी थे वो बिहार से लाये गए थे. लोगों को लाने के लिए गाड़िया फ्री कर दी थी फिर भी लोग नहीं आयें.

प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन पर प्रतिक्रिया देते हुए मायावती ने आहा कि प्रधानमंत्री मोदी दूध के धुले नहीं है. अपने भ्रष्टाचार को ख़त्म करने के फैसले पर कितना अमल कीया है. पीएम मोदी ने देश की जनता को लाइन में खड़ा कर दिया है. लोगों को बहुत बुरे दिन का सामान करना पड़ रहा है. बीजेपी ने भारत बंद का आयोजन किया है. पीएम ने कहा कि 10 महीनों से इस काम की तैयारी चल रही थी लेकिन काम कुछ नहीं दिख रहा है. बैंको में पैसा अभी तक नहीं आया. अपने काले धन को बीजेपी ने सफ़ेद कर लिया है. गरीब नीद की गोलिया खा कर सो रहा है और अमीर मस्त है.


मायावती ने पीएम मोदी से पूछा कि अपने ढाई वर्षो के कार्यकाल में केंद्र सरकार ने क्या काम किया है? उत्तर प्रदेश में  विधानसभा के आम चुनाव के पहले वोटों के लिए घोषणायें करेंगे. बिहार के ही तरह चुनाव से पहले बीजेपी के रास्ट्रीय नेता छोटे-छोटे कामों का शिलानायाश करेंगे. सरकार दो साल कुम्भकरण की तरह सोती रही अब चुनाव से पहले शिलान्याश कर रहे है. पीएम ने अब तक जो क्या किया उसका हिसाब दें.

मायावती ने केंद्र सरकार से उत्तर प्रदेश को चार राज्यों में अलग-अलग  राज्य बनाने की मांग की है. पीएम और बीजेपी के नेता चाहें जितना नोटों की माला पहने लेकिन एक दलित की बेटी अगर माला पहनती है तो उसका विरोध करते है. ये बोलना पीएम की मानसिकता दिखाती है.

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Share it
Share it
Top