Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

आजाद होगा आदमखोर होने के जुर्म में सजा काट रहा 'उस्ताद'

 Abhishek Tripathi |  2016-08-26 02:39:59.0

ustad_t24तहलका न्यूज ब्यूरो
उदयपुर. पिछले 15 महीने से उदयपुर के बायोलॉजिकल पार्क में मैन इटर होने के जुर्म में काले पानी की सजा काट रहे उस्ताद टाइगर 24 के चाहने वालों के लिए अब एक अच्छी खबर आई है। दुनियाभर के बाघ प्रेमियों के दिलों पर राज करने वाला टाइगर 24 उस्ताद अब उदयपुर बायोलॉजिक की कैद से जल्द आजाद होने वाला है। उस्ताद के स्वास्थ और आहार की जानकारी लेने आए विशेषज्ञों के दल ने उस्ताद के क्रियाकलापों को देखकर उस्ताद को अन्य जगह शिफ्ट किए जाने का विचार किया है।


उस्ताद का होगा नया ठिकाना
रणथम्भौर की खुली आबोहवा में इंसानों पर हमले के बाद आदमखोर का कलंक झेलकर उदयपुर के छोटे से एनक्लोजर में कैद हुए टाइगर 24 को जल्द नया घर मिल सकता है। उम्मीद जताई जा रही है कि उस्ताद का यह घर या तो राजसमंद जिले का कुंभलगढ़ राष्ट्रीय उद्यान या टोंक जिले में प्रस्तावित आमली टाइगर सफारी हो सकता है। टाइगर 24 को शिफ्ट करने के लिए विशेषज्ञों ने अपनी राय दे दी है। हालांकि इसके पहले उस्ताद को और कुछ महीने उदयपुर के सज्जनगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में ही रहना होगा।


शिफ्टिंग को लेकर हुई चर्चा
दरअसल टाइगर 24 के स्वास्थ को लेकर उदयपुर में मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक की गठित टीम ने नेशनल टाइगर कंजर्वेशन ऑथोरिटी (एनटीसीए) के आईजी डॉ. एचएस नेगी के नेतृत्व में यहां बैठक की। इस टीम ने पिछले 2 दिनों में उस्ताद के रखरखाव और उसकी मॉनिटरिंग को लेकर की गई व्यवस्था को देखा और संतोष जताया। इसके बाद टीम ने बड़ी रोड स्थित अरण्य कुटीर में इसकी शिफ्टिंग को लेकर महतवपूर्ण चर्चा की।


गुस्सैल है उस्ताद
गौरतलब है कि उस्ताद बचपन से ही गुस्सैल और आक्रमक रहा है। इसी वजह से बाघ प्रेमी इसे पसंद करते हैं। बाघ प्रेमियों का आरोप रहा है कि उस्ताद के स्वभाव की वजह से उस पर आरोप लगे हैं, वह आदमखोर नहीं है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top