Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

लखनऊ देश के सबसे तेजी से विकसित हो रहे शहरों में शामिल

 Sabahat Vijeta |  2016-06-14 15:16:35.0

lko




  • बदलते दौर की आवश्यकताओं के अनुसार लखनऊ को एक अत्याधुनिक महानगर के रूप में विकसित करने की जरूरत

  • आधुनिक बुनियादी ढांचे के निर्माण के साथ ही लखनऊ की परम्परा और विरासत का संरक्षण भी जरूरी

  • मुख्यमंत्री ने मेट्रो रेल, सीजी सिटी, जय प्रकाश नारायण इण्टरनेशनल कन्वेंशन सेण्टर, पुराने लखनऊ के विकास कार्य तथा लखनऊ हाट परियोजना की समीक्षा की


लखनऊ. मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि प्रदेश की राजधानी लखनऊ देश के सबसे तेजी से विकसित हो रहे शहरों में शामिल है। बदलते दौर की जरूरतों के मुताबिक इसे एक अत्याधुनिक महानगर के रूप में विकसित करने की जरूरत है। विकास प्रक्रिया में आधुनिक बुनियादी ढांचे के निर्माण के साथ ही लखनऊ की परम्परा और विरासत का संरक्षण भी जरूरी है। इन बातों को ध्यान में रखकर समाजवादी सरकार लखनऊ का समग्र विकास करा रही है।


मुख्यमंत्री आज यहां लखनऊ में चल रही विभिन्न विकास परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। इन परियोजनाओं में लखनऊ मेट्रो रेल, सीजी सिटी परियोजना, जय प्रकाश नारायण इण्टरनेशनल कन्वेंशन सेण्टर, पुराने लखनऊ में चल रहे विकास कार्य तथा लखनऊ हाट (अवध शिल्प ग्राम योजना) आदि शामिल हैं।


lko-metro


समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री को लखनऊ मेट्रो रेल के प्रबन्ध निदेशक ने अवगत कराया कि एल्सटाॅम इण्डिया द्वारा श्री सिटी में ट्रेन के निर्माण का कार्य प्रारम्भ करा दिया गया है और अक्टूबर, 2016 में कोचों के आने की सम्भावना है। आॅपरेशन एवं मेन्टेनेन्स स्टाफ का प्रशिक्षण शीघ्र ही प्रारम्भ होगा। आगामी एक माह में केडी सिंह बाबू स्टेडियम से मुंशी पुलिया तक निर्मित किए जाने वाले अवशेष एलीवेटेड सेक्शन के सिविल कार्यों की निविदा के साथ-साथ अन्य कार्य जैसे मेट्रो के लिए आवश्यक स्टाफ की नियुक्ति इत्यादि को प्राथमिकता से कराया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने इस परियोजना के विभिन्न कार्याें को उनकी निर्धारित समयावधि में पूरा करने के निर्देश दिए। साथ ही, उन्होंने इसके नार्थ-साउथ काॅरिडोर के प्राथमिक सेक्शन (चौधरी चरण सिंह हवाई अड्डे से चारबाग रेलवे स्टेशन तक) को 31 दिसम्बर, 2016 तक पूर्ण करने के भी निर्देश दिए।


सरकार की प्राथमिकता वाली सीजी सिटी परियोजना के विषय में लखनऊ विकास प्राधिकरण के उच्चाधिकारियों द्वारा श्री यादव को अवगत कराया गया कि इस परियोजना के सभी कार्य जुलाई, 2016 के अन्त तक पूर्ण हो जाएंगे। जय प्रकाश नारायण इण्टरनेशनल कन्वेंशन सेण्टर के विषय में लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा अवगत कराया गया कि इसके तहत निर्मित किए जा रहे म्यूजियम ब्लाॅक और पार्किंग ब्लाॅक का कार्य जून, 2016 तक पूर्ण कर लिया जाएगा, जबकि स्पोर्ट्स ब्लाॅक का कार्य नवम्बर, 2016 तक पूर्ण हो जाएगा। मुख्यमंत्री ने इन दोनों परियोजनाओं को इसी वित्तीय वर्ष में पूरा करने के निर्देश दिए।


lko-2


मुख्यमंत्री ने पुराने लखनऊ में कराए जा रहे विभिन्न विकास कार्यों जैसे-हुसैनाबाद क्लाॅक टावर परिसर के निकट जनसुविधा परिसर, पाथ-वे, वाॅटर बाॅडी, पार्किंग एवं पिक्चर गैलरी के लिए अप्रोच मार्ग का निर्माण, हुसैनाबाद स्थित सतखंडा व छोटा इमामबाडे़ के पहले गेट (पूर्वी) व दूसरे (पश्चिमी) गेट का सुदृढ़ीकरण, हेरिटेज स्पाइन पेवमेन्ट/घण्टाघर/स्ट्रीट फिनिशिंग, साईनेज, गुलाब/नींबू पार्क का विकास, घण्टा घर का कन्जर्वेशन, प्लेइंग इक्विप्मेन्ट, म्यूजिकल फाउण्टेन की स्थापना, टीले वाली मस्जिद पार्क का विकास इत्यादि कार्याें के सम्बन्ध में लखनऊ विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को निर्देशित किया कि ये कार्य इस माह के अन्त तक अवश्य ही पूर्ण करा लिए जाएं।


श्री यादव ने महत्वाकांक्षी लखनऊ हाट (अवध शिल्प ग्राम योजना) के सम्बन्ध में उत्तर प्रदेश आवास एवं विकास परिषद के अधिकारियों निर्देशित किया कि इस परियोजना का सम्पूर्ण निर्माण कार्य जून, 2016 में ही पूर्ण करा लिया जाए और आर्टिफैक्ट्स लगाए जाने का कार्य अगस्त, 2016 तक पूरा करा लिया जाए।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top