Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

यूपी में कहर बनकर गिरी बिजली, पूर्वांचल में 9 की मौत

 Tahlka News |  2016-03-14 17:46:01.0

a1तहलका न्यूज ब्यूरो
लखनऊ, 14 मार्च. बेमौसम की बरसात के साथ सोमवार की सुबह आकाशीय बिजली कहर बनकर गिरी। अलग-अलग जिलों में नौ लोगों की मौत हो गई और कई लोग झुलस गए। चंदौली के धानापुर में स्थित एक मदरसे में गिरी बिजली ने दो शिक्षकों की जान ले ली। प्रधानाध्यापिका और छह बच्चे झुलस गए। भदोही-गाजीपुर में भी दो-दो लोगों ने वज्रपात की चपेट में आकर दम तोड़ दिया। मिर्जापुर, वाराणसी और जौनपुर में एक-एक व्यक्ति की जान चली गई। कई मवेशियों की भी बिजली की चपेट में आकर मौत हो गई है।


बिजली ने सबसे ज्यादा कोहराम चंदौली के धानापुर में स्थित धराव गांव के मदरसे में मचाया। यहां मदरसा अलतौहिद में परीक्षा के दौरान सुबह साढ़े नौ बजे गिरी बिजली ने  शिक्षक इस्तेखार अंसारी (32)व शिक्षिका असमत (30)की जान ले ली। छह छात्र, प्रधानाध्यपिका और एक शिक्षक के अलावा बरामदे में बैठा किसान झुलस गया। वाराणसी के चोलापुर में रौनाखुर्द गांव में प्रकाश राजभर (28) की मौत हो गई और उसकी पत्नी झुलस गई। मिर्जामुराद में दो युवतियां और चौबेपुर में दो युवक झुलस गए।

गाजीपुर में नोनहरा के मीरपुर गांव में बिजली की चपेट में आने से विजय राजभर (52) और दुल्लहपुर के मलेठी गांव में दुलारी देवी (50) की मौत हो गई। भदोही में दुर्गागंज के अर्जुनपुर गांव में मुन्नालाल यादव का बेटा शुभम (15) और जंगीगंज के महुआरी गांव में बर्खास्त सिपाही सुभाष चौधरी (42) की मौत हो गई। मिर्जापुर में चील्ह के कोल्हुआं गांव में रामू (28) ने गंगा किनारे नाव का लंगर बांधते समय बिजली की चपेट में आकर दम तोड़ दिया। जौनपुर में बख्शा के चक मिर्जापुर गांव में सरिता (30) की घर के बाहर काम करते वक्त जान चली गई।

बलिया में शिवालय का गुंबद क्षतिग्रस्त
बलिया में पकड़ी के उससा गांव में बिजली गिरने से बबूल का पेड़ दो हिस्सों में बंट गया। गोविंदपुर गांव में शिवालय पर आकाशीय बिजली गिरने से गुम्बद क्षतिग्रस्त हो गया। मऊ में कोपागंज ब्लाक के कुर्थीजाफरपुर विद्युत उपकेंद्र पर बिजली गिरने से ट्रांसफार्मर फट गया और फीडर की मशीनें और केबिल जल गई। उपकेंद्र पर तैनात कर्मचारी बाल-बाल बच गये।

बनारस में 5.2 मिलीमीटर बारिश
वाराणसी में सोमवार की भोर में गरज-चमक के साथ शुरू हुई बारिश करीब दस बजे तक जारी रही। मौसम विभाग के मुताबिक यहांं 5.2 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई है। बारिश के कारण सीबीएसई 12वीं की गणित परीक्षा देने वाले छात्रों और अभिभावकों को परेशान होना पड़ा। कई इलाकों में जलजमाव और बिजली संकट भी रहा।

किसानों की कमर टूटी, फसलों को भारी नुकसान
सूखे की मार झेल रहे किसानों के लिए अब बरसात कहर बन गई है। शनिवार से रुक-रुक कर हो रही बारिश के साथ सोमवार को ओले भी गिरे। इससे दलहन और तिलहन फसलों के पूरी तरह से बर्बाद होने की आशंका जताई जा रही है। किसान रबी की फसलों को लेकर चिंतित हैं।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top