Breaking News
  • Breaking News Will Appear Here

19 परियोजनाओं का लोकार्पण, 13 का शिलान्यास

 Sabahat Vijeta |  2016-03-31 15:53:17.0


  • समाजवादी सरकार संकट की घड़ी में गरीबों के साथ: मुख्यमंत्री

  • राज्य सरकार सूखे से प्रभावित बुन्देलखण्ड क्षेत्र में पीडि़तों की मदद के लिए हर सम्भव कदम उठाएगी

  • मुख्यमंत्री ने महोबा जनपद में 1500 अन्त्योदय परिवारों को सूखा राहत सामग्री पैकेट वितरित कर योजना का शुभारम्भ किया

  • महोबा जनपद में 14788.36 लाख रुपये लागत की 19 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 13 परियोजनाओं का शिलान्यास किया


cm-mahobaलखनऊ, 31 मार्च. मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बुन्देलखण्ड क्षेत्र के सूखाग्रस्त जनपद महोबा में प्रभावित पात्र परिवारों को विशेष राहत सामग्री वितरित करते हुए कहा कि संकट की घड़ी में उत्तर प्रदेश सरकार महोबा के लोगों के साथ खड़ी है। उन्होंने इस मौके पर महोबा के तेजी से विकास के लिए 14788.36 लाख रुपये लागत की 19 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 13 परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया।


मुख्यमंत्री ने आज महोबा के पाॅलीटेक्निक ग्राउण्ड में 1500 अन्त्योदय परिवारों को सूखा राहत सामग्री का पैकेट वितरित कर योजना का शुभारम्भ किया। इसके तहत प्रत्येक लाभार्थी को इस राहत सामग्री के रूप में 10 किलो आटा, 05 किलो चने की दाल, 01 किलो देशी-घी, 01 किलो मिल्क पाउडर, 05 किलो सरसों का तेल तथा 25 किलो आलू उपलब्ध कराया गया। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने महोबा जिले में समाजवादी पेंशन योजना के 300, श्रम विभाग की साइकिल सहायता योजना के 200, लोहिया आवास के 50, कृषक दुर्घटना बीमा योजना के 04, कन्या विद्याधन योजना के 200 तथा निःशुल्क लैपटाॅप वितरण योजना के 400 विद्यार्थियों को लाभान्वित भी किया।


cm-mahoba-2इस अवसर पर आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस समय पूरा बुन्देलखण्ड क्षेत्र भीषण सूखे की चपेट में है। इसके पहले ओलावृष्टि से फसलों का काफी नुकसान हुआ था। उत्तर प्रदेश सरकार किसानों तथा गरीब लोगों की हितैषी है। इसको दृष्टिगत रखते हुए इस दैवीय आपदा से लोगों को राहत पहुंचाने के लिए कई कदम उठाए गए हैं। यहां के लोगों की हर सम्भव मदद की जा रही है और आगे भी जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि समाजवादी पेंशन योजना से गरीबों को काफी राहत मिली है। राज्य सरकार ने इस योजना के माध्यम से हर उस गरीब की मदद करने की कोशिश की है जो किसी अन्य पेंशन योजना से आच्छादित नहीं है।


श्री यादव ने इस मौके पर युवाओं का आह्वान किया कि वे कौशल विकास मिशन के तहत प्रशिक्षण प्राप्त कर अपना रोजगार स्थापित करें। उन्होंने कहा कि सामाजिक सेक्टर की देश में सबसे बड़ी पेंशन योजना उत्तर प्रदेश सरकार को पुनः सत्ता में लाने का कारण बनेगी। पेंशन पा रही महिलाएं तथा उनका परिवार राज्य सरकार को मदद करेंगी। उन्होंने लाभार्थियों को बधाई देते हुए कहा कि समाजवादी हर समय गरीबों के साथ रहे हैं और गरीबों, महिलाओं, मजदूरों, तथा विकास से वंचित वर्गाें की किसी न किसी ढंग से मदद कर रहे हैं।


मुख्यमंत्री ने कहा कि समाजवादी सरकार गांव व शहर में संतुलन बनाकर विकास कर रही है। जहां एक ओर बड़ी योजनाएं शुरु की गई हैं, वहीं दूसरी ओर मानव विकास के जुड़ी बुनियादी सुविधाओं को सुदृढ़ करने पर जोर दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि साड़ी वितरण योजना की खामियों को देखते हुए गरीब महिलाओं को मदद पहुंचाने के लिए समाजवादी पेंशन योजना शुरु की गई है। यह योजना लाखों गरीब परिवारों के लिए सहारा बनी हुई है। उन्होंने कहा कि यदि हमारे पार्टी पदाधिकारी ईमानदारी से इस योजना को लोगों तक पहुंचा दें तो उनकी सरकार को सत्ता में आने से कोई रोक नहीं सकता।


cm-3श्री यादव ने कहा कि बुन्देलखण्ड क्षेत्र का सूखा और पूर्व में हुई ओलावृष्टि एक दैवीय आपदा है। प्रभावित लोगों को राज्य सरकार पूरी मदद पहुंचाएगी। यह सहायता पेंशन, मनरेगा, भोजन वितरण या विशेष पैकेट वितरण जिससे भी सम्भव होगा, की जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अपने संसाधनों से बुन्देलखण्ड क्षेत्र के प्रभावित लोगों को भरपाई की है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की समाजवादी सरकार सड़क, बिजली, पानी, सिंचाई व्यवस्था कर रही है। साथ ही, इस क्षेत्र में पेयजल की समस्या का समाधान करने के लिए टैंकरों को भी लगा रखा है। उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड की समस्या को दूर करने के लिए राज्य सरकार हर सम्भव कदम उठाएगी।


श्री यादव ने कहा कि सत्ता में आते ही समाजवादी सरकार ने बुन्देलखण्ड के पिछड़ेपन और बदहाली को दूर करने के लिए तमाम योजनाएं शुरु कीं और उस पर गम्भीरता से अमल सुनिश्चित कराया। बुन्देलखण्ड में सर्वाधिक डैम बनवाये गए हैं। उन्होंने कहा कि कुछ लोग सरकार द्वारा संचालित विकास कार्याें को हजम नहीं कर पा रहे हैं और कानून-व्यवस्था का मुद्दा बनाकर आलोचना कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि विकास अथवा कानून-व्यवस्था के प्रति शिथिलता दिखाने वाले अधिकारियों को बख्शा नहीं जाएगा।


मुख्यमंत्री ने जिन 19 परियोजनाओं लोकार्पण किया उसमें महोबा लौडी अन्य जिला मार्ग, सूराचैकी सिजहरी अन्य जिला मार्ग, बरबई कहरा सिस्सीकलां मार्ग से जे.एम. रोड तक, महोबा बिलवई बारातपहाड़ी अन्य जिला मार्ग के सुधार तथा सुदृढ़ीकरण कार्य, झांसी मिर्जापुर एन.एच.-76 मार्ग से मकरबई मार्ग के किलोमीटर  5 से वृन्दावन यादव के खोड़ा तक सम्पर्क मार्ग, जनपद महोबा में रहेलिया सूर्य मन्दिर रिहुनिया सागर काली माँ का मन्दिर सूर्यकुण्ड के पहुँच मार्ग के सुधार कार्य, राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के तहत निर्मित 50 शैय्या युक्त मैटरनिटी पनवाड़ी, राजकीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के अन्तर्गत स्वीकृत राजकीय हाईस्कूल, इन्द्राहटा तथा 33/11 केबिल विद्युत उपकेन्द्र गौरहारी निर्माण कार्याें का लोकार्पण किया।


इसके अलावा श्री यादव ने जिन अन्य विकास कार्याें का लोकार्पण किया उसमें नवीन राजकीय हाईस्कूल सुरहा, माॅडल स्कूल कनकुआं का नवनिर्मित भवन, माॅडल स्कूल अजनर व रिवई तथा चिचारा के नवनिर्मित भवन, सामुदायिक केन्द्र रामनगर, जनपद महोबा में कलेक्ट्रेट स्थित आवासीय भवनों का निर्माण कार्य, लेखपाल ट्रेनिंग स्कूल चरखारी, बुन्देलखण्ड विकास पैकेज के अन्तर्गत जनपद हमीरपुर में विरमा-3 राठ चरखारी मार्ग के ग्राम पारा खेड़ा के पास सेतु का निर्माण तथा पान अनुसंधान केन्द्र बजरिया महोबा में कृषक हाॅटल/किसान गेस्ट हाउस के निर्माण कार्य शामिल हैं।


मुख्यमंत्री ने जिन 13 विकास परियोजनाओं शिलान्यास किया उनमें महोबा में मटौंध से मुस्करा वाया ग्योढ़ी सड़क का निर्माण कार्य, बालिका छात्रावास पनवाड़ी, चरखारी, जैतपुर, झांसी-मिर्जापुर एन.एच.-76 मार्ग मकरबई मार्ग के किलोमीटर  5 से वृन्दावन यादव के खोड़ा तक सम्पर्क मार्ग, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र जैतपुर, कीरतसागर तालाब का सौन्र्दीयकरण का कार्य, बीजानगर निरीक्षण भवन (विजय सागर पक्षी विहार) के सौन्र्दीयकरण एवं सुधार का कार्य, बेला सागर निरीक्षण भवन का सौन्दर्यीकरण एवं सुधार का कार्य, एम.एस.डी.पी. प्लान के अन्तर्गत स्वीकृत राजकीय बालिका इण्टर काॅलेज, रामनगर महोबा का निर्माण कार्य, आसरा योजना के तहत 2015-16 में स्वीकृत आसरा आवास योजना महोबा में 468 आवासों का निर्माण कार्य, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अन्तर्गत 2014-15 में स्वीकृत आश्रय योजना (शेल्टर होम) महोबा, आई.टी.आई. जैतपुर में आवासीय/अनावासीय भवनों का निर्माण तथा जनपद महोबा में पाॅलीटेक्निक कुलपहाड़ के निर्माण कार्य शामिल हैं।


इस मौके पर राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चौधरी, कृषि एवं कृषि शिक्षा राज्य मंत्री राजीव कुमार सिंह, मुख्य सचिव आलोक रंजन, कृषि उत्पादन आयुक्त प्रवीर कुमार, राहत आयुक्त अनिल कुमार समेत शासन व प्रशासन के अधिकारी उपस्थित थे।

  Similar Posts

Share it
Top