तीन तलाक के बाद शुरू हुआ पुरुष बनाम महिला काजी विवाद

 2017-04-19 12:30:42.0

तीन तलाक के बाद शुरू हुआ पुरुष बनाम महिला काजी विवाद

तहलका न्यूज ब्यूरो 

मुबई.  तीन तलाक और हलाला मामले पर मुस्लिम समुदाय के पुरुष और महिलाओं के बीच मत भिन्नता सामने आई थी कि मुम्बई में महिला काजी का मुद्दा गरम हो गया है. तलाक के मामलों में पुरुष काजी की भूमिका के खिलाफ अब महिलाएं खुद को बतौर काज़ी सामने लाने लगी हैं. 

मुम्बई की सुरैया शेख और हिना सिद्दीकी ने अपने 15 सालों के संघर्ष के बाद महिला काजी की भूमिका निभाने के लिए तैयार हैं. ये दोनों महिलाएं मुस्लिम महिला के अधिकारों के लिए लडती रही हैं और उनका कहना है कि अब हम निकाह भी कराएँगे और मुस्लिम महिलाओ के साथ नाइंसाफ़ी नहीं होने देंगी.  लेकिन पुरुष काजी और कुछ मौलाना इसे इस्लामी शरियत के खिलाफ बताकर विरोध कर रहे है.  

सुरैया शेख का कहना है कि जुबानी तलाक से पीड़ित कई महिलाएं उन्हें मिलती थी और जब वे काजी के पास जाती थी तो हर बात के पैसे मांगे जाते थे. , तलाक का 3 हज़ार, पासपोर्ट या निकाहनामा बनवाने के लिए 5 हज़ार तक मांगे जाते थे . आदमी जब तीन तलाक दे देते थे तो काज़ी मान लेते थे, इसलिए हमने भी सोचा कि अब महिलाओं को भी काजी बनना चाहिए. 

हिना बताती है की औरत कभी क़ाज़ी बनी नहीं है, आदमी ही क़ाज़ी हुआ करते थे. बिना सोचे समझे तलाक के मामले में ये औरतें हमारे पास आती थी.कई मौलाना तो  मोबाइल पर तलाक करवा देते थे, पैसे लेकर तलाक करवा देते थे. आदमी क़ाज़ी आदमी के नज़रिये से ही फैसला करते थे, लेकिन औरत क़ाज़ी औरतो के नज़रिए को भी देखेगी.

हिना और सुरैया ने काजी बनने के लिए 3 साल का प्रशिक्षण लिया है. इसके लिए ये औरते मुम्बई के अलावा भोपाल और जयपुर भी गयी. इस दौरान इन्होने बारीख़ी से सीखा की औरतो के अधिकार क्या है| संविधान ने औरतो को क्या हक़ दिया है और कुरान की रौशनी औरतो को किस नज़र से देखती है. औरतो के हक़ में कौन से आयातो में और कौन से रोको में क्या लिखा है.

बनायेंगी अलग निकाहनामा 

मुम्बई की इन महिला काजीयों  ने फैसला किया है कि इनका निकाहनामा भी अलग होगा जिसमे पुरुष और महिलाओ के बारे में पूरी जानकारी ली जाएँगी . उनके पते की पड़ताल की जाएगी और निकाहनामा के साथ दोनों को फोटो आईडी प्रूफ और एड्रेस प्रूफ भी देना होगा ताकि निकाह करके भागने पर उस  आदमी का पता लगाया जा सके. तलाक से जुड़े मसले भी इन काज़ियो के पास अलग तरीके से हल किये जाएंगे. 

Tags:    
loading...
loading...

  Similar Posts

Share it
Top